खेल

बंगाल क्रिकेट संघ में उठ रहे बगावती सुर, खतरे में 'दादा' की कुर्सी!

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
872
| अक्टूबर 28 , 2017 , 17:20 IST

टीम इंडिया के सबसे सफलतम कप्तान में शुमार सौरव गांगुली की मुश्किलें बढ़ सकती है। बता दें कि बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) के संयुक्त सचिव सुबीर गांगुली ने शुक्रवार को कैब अध्यक्ष सौरव गांगुली को पत्र लिखा। इस पत्र के जरिये उन्होंने कहा कि अगर उन्हें 'कूलिंग ऑफ' पर जाने के लिए बाध्य किया जाता है, तो लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों के मुताबिक यही नियम 'दादा' पर भी लागू होता है।

सुबीर आईपीएल संचालन परिषद के पूर्व सदस्य और कैब के अनुभवी रह चुके हैं। वह बंगाल संघ में पूर्व कोषाध्यक्ष बिस्वरुप डे के साथ सौरव गांगुली के विरोधी ग्रुप का हिस्सा हैं। उन्होंने गांगुली को भेजे 3 पेज के पत्र में लिखा कि, अगर आप मुझे संयुक्त सचिव के पद पर जारी रखने के लिए अमान्य ठहराते है, तो लोढ़ा समिति की सिफारिशों के मुताबिक आप भी जारी नहीं रह सकते और इसके मुताबिक 'कूलिंग ऑफ' का 3 साल का वक्त आपके खिलाफ भी लागू होगा।

इतना ही नहीं इसके साथ उन्होंने कहा कि आपको भी तुरंत प्रभाव से अपना पद छोड़ना होगा। बंगाल क्रिकेट संघ में उपजे इस विवाद से दादा की मुश्किलें तो बढ़ गई है। लेकिन, अब देखना यह बाकी है कि क्या गांगुली अपने पद पर बरकरार रहेंगे या नहीं।

Sourav-Ganguly

बता दें कि संयुक्त सचिव सुबीर को उनके पद से इस्तीफा देने की सलाह दी गई थी। हालांकि इस बारे में जब दादा से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि, जो सुबीर ने कहा है उसके बारे में मैं कुछ नहीं कहूंगा। सभी जानते हैं कि वह पदाधिकारी के रूप में 9 साल पूरे कर चुके हैं, जिसमें कोषाध्यक्ष के रूप में 4 साल और संयुक्त सचिव के रूप में 5 साल शामिल हैं।


कमेंट करें