नेशनल

मध्य प्रदेश: स्कूल में ‘घूमर’ गाने पर हो रहा था डांस, करणी सेना ने की तोड़फोड़

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
316
| जनवरी 16 , 2018 , 11:15 IST

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं। फिल्म का नाम पद्मावती से पद्मावत करने और 300 कट के साथ रीलीज़ होने के बाद भी विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है।

करणी सेना सहित अन्‍य संगठन देश अलग-अलग हिस्‍सों में इसका अभी भी विरोध कर रहे हैं। हाल ही में मध्‍य प्रदेश के रतलाम जिले की एक घटना सामने आई, जिसमें फिल्‍म के गाने 'घूमर' चलाए जाने के विरोध में तोड़फोड़ की गई। इस घटना में एक छात्र घायल भी हो गया है।

मध्‍यप्रदेश के रतलाम ज‍िले के जौरा में सेंट पॉल कॉन्‍वेंट स्‍कूल में 'घूमर...' गाने पर बच्‍चे डांस परफॉर्मेंस कर रहे थे, इसी दौरान करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने गाने का विरोध करते हुए उत्‍पात मचाना शुरू कर दिया। कार्यकर्ताओं ने कुर्सियां तोड़ दी और साउंड सिस्‍टम को तहस-नहस कर दिया। पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

ये भी पढ़ें-प्रसून जोशी बोले- पद्मावती में 26 कट की बात गलत, सिर्फ 5 बदलावों के लिए कहा

रिपोर्ट के मुताबिक, इस गाने पर पहली कक्षा से लेकर 5वीं कक्षा तक के बच्चे परफॉर्म कर रहे थे। जिस वक्त परफॉर्मेंस चल रही थी, उसी तरफ करणी सेना के लोग स्कूल में तोड़फोड़ कर रहे थे।

दूसरी ओर शनिवार को चित्तौड़गढ़ में सर्व समाज की बैठक में क्षेत्रीय समाज की महिलाएं काफी संख्या में शामिल हुर्इं। सूत्रों के मुताबिक जौहर स्मृति संस्थान के जनरल सेक्रेटरी कण सिंह ने कहा कि मूवी की रिलीज पर रोक नहीं लगी तो इससे जुड़े सभी लोगों को फांसी पर चढ़ा देंगे।

बैठक में तय किया गया कि 17 जनवरी से राजमार्ग जाम करने के साथ ही रेल यातायात भी अवरूद्ध किया जाएगा। सर्व समाज का एक प्रतिनिधिमंडल रविवार को दिल्ली जाकर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात करेगा। राजनाथ सिंह से देशभर में फिल्म के प्रदर्शन पर रोक की मांग की जाएगी।

करणी सेना के प्रवक्ता वीरेंद्र सिंह ने बताया कि बोर्ड का अध्यक्ष 16 जनवरी को पीएम मोदी से मिलेगा। हम उनसे भी फिल्म पर रोक लगाने की मांग करेंगे। इन सभी विरोधों के बावजूद फिल्म की रिलीज पर रोक नहीं लगेगी तो महिलाएं उसी जगह जौहर करेंगी, जहां रानी पद्मिनी ने किया था।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें