नेशनल

मुजफ्फरनगर: कवाल हत्याकांड में सातों दोषियों को मिली उम्रकैद की सजा

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1721
| फरवरी 8 , 2019 , 17:14 IST

मुजफ्फरनगर में दो युवकों सचिन और गौरव (भाईयों) की हत्या के मामले में आज कोर्ट ने सजा का एलान किया है। इसमें सात दोषियों (मजस्सिम, फुरकान, नदीम, जहांगीर, अफजल, मुजम्मिल और इकबाल) को उम्रकैद की सजा दी गई है। इसके अलावा सभी दोषियों पर दो-दो लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया गया है। बताया जा रहा है कि इसी धनराशि में से अस्सी प्रतिशत धनराशि पीड़ित परिवारों को दी जाएगी।

27 अगस्त 2013 को कवाल कांड के बाद मुजफ्फरनगर और शामली में सांप्रदायिक दंगे भड़क उठे थे। इसमें 60 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी और सैकड़ों परिवार बेघर हुए थे। मामले में सरकारी वकील आशीष कुमार त्यागी ने कहा कि साल 2013 में सचिन और गौरव नाम के दो युवकों और आरोपियों में मोटरसाइकिल की टक्कर के बाद विवाद हो गया था। इसमें दोनों युवकों की हत्या कर दी गई थी। आरोपी पक्ष के शाहनवाज की भी इस दौरान मौत हो गई थी। इसके बाद से मुजफ्फरनगर और शामली में सांप्रदायिक दंगा भड़क उठा था।

मृतक गौरव के पिता ने जानसठ कोतवाली में कवाल के मुजस्सिम, मुजम्मिल, फुरकान, नदीम, जहांगीर, अफजाल और इकबाल के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। वहीं मृतक शाहनवाज के पिता ने भी सचिन और गौरव के अलावा उनके परिवार के 5 सदस्यों के खिलाफ FIR दर्ज कराई थी। हालांकि स्पेशल इन्वेस्टिगेशन सेल ने जांच के बाद शाहनवाज हत्याकांड में एफआइ (फाइनल रिपोर्ट) लगा दी थी।

गौर हो कि हाल ही में यूपी सरकार ने साल 2013 में हुए मुजफ्फरनगर दंगों के 38 आपराधिक मामलों को वापस लेने की सिफारिश की थी। इन मुकदमों को वापस लेने की संस्तुति रिपोर्ट 29 जनवरी को मुजफ्फरनदर डिस्ट्रिक्ट कोर्ट को भेजी गई थी। यूपी सरकार ने पिछले 10 जनवरी को इन मुकदमों को वापस लेने की स्वीकृति दी थी।


कमेंट करें