नेशनल

मुजफ्फरपुर रेप केस: एक्शन में नीतीश सरकार, समाज कल्याण विभाग के 5 अधिकारी निलंबित

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2219
| अगस्त 5 , 2018 , 15:49 IST

बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में 34 बच्चियों ले दरिंदगी विरोध में दिल्ली के जंतर-मंतर पर तेजस्वी यादव के धरने को मिले विपक्ष के समर्थन का असर देखने के मिला है। विपक्ष के हमलों से घिरी बिहार सरकार दवाब में दिख रही है। नीतीश सरकार ने अब लापरवाही बरतनेवाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। समाज कल्याण विभाग के सहायक निदेशक देवेश कुमार को निलंबित कर दिया गया है। भोजपुर, मुंगेर, अररिया, मधुबनी और भागलपुर सामाजिक कल्याण विभाग के सहायक निदेशकों को सस्पेंड किया गया है।

आपको बता दें कि बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में 34 लड़कियों के साथ हुई हैवानियतने पूरे देश को हिलाकर रख दिया। इसी के विरोध में शनिवार को विपक्षी पार्टियों ने नई दिल्ली में जंतर-मंतर पर नीतीश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। आरजेडी की तरफ से बुलाए गए इस धरने में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल हुए। सभी ने दोषियों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई की मांग की।

ये भी पढ़ें: मुजफ्फरपुर कांड पर दिल्ली में धरना, केजरीवाल बोले- दोषियों को 3 महीने में हो फांसी

मुजफ्फरपुर कांड पर बिहार की नीतीश सरकार के खिलाफ शनिवार को राजधानी दिल्ली के जंतर-मंतर पर समूचा विपक्ष एकजुट दिखाई दिया। आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के धरने के समर्थन में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, लेफ्ट के नेता डी. राजा, सीताराम येचुरी, TMC के दिनेश त्रिवेदी, शरद यादव, संजय सिंह, जीतनराम मांझी आदि शामिल हुए।

ये भी पढ़ें: जंतर-मंतर पर बोले राहुल गांधी-कहा एक तरफ BJP और संघ, दूसरी तरफ पूरा देश

अरविंद केजरीवाल ने भाषण में कहा कि बीजेपी महिलाओं पर जुल्म कर रही है। अपराधियों को बचाने वाला भी दोषी होता है। 40 बेटियों के साथ कई वर्षो तक अत्याचार हुआ। वही मीसा भारती ने कहा कि नीतिश सरकार को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।


कमेंट करें