नेशनल

नगालैंड में महिला आरक्षण के खिलाफ हिंसा और आगजनी, सेना बुलाई गई

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
584
| फरवरी 3 , 2017 , 10:38 IST

स्थानीय निकायों के चुनाव में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने के खिलाफ नगालैंड में प्रदर्शन तेज हो गया है। प्रदर्शनकारियों ने कई सरकारी भवनों और वाहनों को आग के हवाले कर दिया है। विरोध प्रदर्शन कर रहे लोग मुख्यमंत्री टी आर जेलियांग और उनकी कैबिनेट के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों ने सीएम टीआर जेलिआंग के आवास पर भी हमला किया है।

Nagaland

हालात पर काबू पाने के लिए राज्य सरकार को आर्मी को बुलाना पड़ा है। अभी वहां पर असम राइफल्स की तैनाती की गई है। इस बीच नगालैंड के डीजीपी ने गृह मंत्रालय को रिपोर्ट भेजी है। इस रिपोर्ट में नगालैंड के सीएम की जान को खतरा बताया गया है। उनके घर की सुरक्षा को लेकर खास निर्देश दिये  गये हैं। नगालैंड के मुख्यमंत्री के ठिकानों को दीमापुर में भी टारगेट किया गया है।

Nagaland-violence

आपको बता दें कि पिछले कई दिनों से नगालैंड में तनाव बना हुआ है। प्रदर्शनकारियों ने म्युनिसिपल कॉरपोरेशन और डिस्ट्रिक्ट कमिश्नर के दफ्तर में आग लगा दी गई थी। प्रदर्शनकारियों ने सीएम टी आर जेलियांग और उनकी कैबिनेट के इस्तीफे की मांग की है। पिछले दिनों हुई झड़पों में दो लोगों की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे।

 C3MNy2QUEAAbdGt

हिंसा की वजह 

ट्राइबल ग्रुप लोकल इलेक्शन में महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण दिए जाने का विरोध इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उनका मानना है कि ऐसा करने से महिलाओं और पुरुषों के बीच चली आ रही पारंपरिक व्यवस्था पर असर पड़ेगा। इसी रिजर्वेशन के विरोध मे पूरे नगालैंड में प्रदर्शन किए जा रहे हैं।
C3tuAj_UoAAIIIy


कमेंट करें