नेशनल

PM मोदी ने सिक्किम को दिया पहला एयरपोर्ट, चीन सीमा तक उतर सकेंगे विमान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2097
| सितंबर 24 , 2018 , 12:38 IST

रविवार को देश को आयुष्मान भारत योजना की सौगात देने के बाद सोमवार को पीएम मोदी ने सिक्किम को बहुत बड़ी सौगात दी। दरअसल पीएम मोदी ने सोमवार को सिक्किम के पहले एयरपोर्ट का उद्घाटन किया। पाकयोंग ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट गंगटोक से करीब 33 किलोमीटर दूर हैं।

चीन बॉर्डर से 60 किमी दूर-:

सिक्किम की राजधानी गंगटोक के ऊंचे पहाड़ी इलाके में बने इस ग्रीनफील्ड। एयरपोर्ट को हाल ही में सिविल एविएशन विभाग की ओर से कॉमर्शियल उड़ानों की परमीशन मिली है। यह एयरपोर्ट चीन बॉर्डर से सिर्फ 60 किमी दूर है। यहां से उड़ने वाले एयरफोर्स विमानों को चीन सीमा तक पहुंचने में कुछ ही मिनट का समय लगेगा।

यह एयरपोर्ट देश का 100वां वर्किंग एयरपोर्ट होगा। हाल ही में भारतीय वायुसेना का एक डोर्नियर 228 इस हवाई अड्डे पर ट्रायल के तौर पर उतारा गया था। इसके अलावा यात्री विमानों की टेस्टिंग के तौर पर स्पा इसजेट पहले ही यहां ड्राई रन कर चुकी है।


600 करोड़ की लागत से हुआ तैयार-:

206 एकड़ इलाके में फैले इस एयरपोर्ट को बनाने में करीब 605.59 करोड़ रुपये खर्च हुए। इसमें जियोटेक्निकल इंजीनियरिंग का इस्तेमाल किया गया है और यहां की मिट्टी में एयरपोर्ट की जरूरतों के हिसाब से बदलाव किए गए हैं। साथ ही स्लोप स्टेबलाइजेशन तकनीक भी लगाई गई है।

वहीं इस खास मौके पर पीएम मोदी के साथ केंद्रीय विमानन मंत्री सुरेश प्रभु, केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह के साथ सीएम पवन चामलिंग के साथ साथ कई मंत्री, नेता मौजूद रहे।

कहां बना है ये एयरपोर्ट-:

सिक्किम के मुख्य सचिव ए.के.श्रीवास्तव ने कहा कि यह हवाई अड्डा 201 एकड़ से ज्यादा जमीन में फैला है और समुद्र तल से 4,500 फुट की ऊंचाई पर बसे पाकयोंग गांव के करीब दो किलोमीटर ऊपर एक पहाड़ी की चोटी पर बनाया गया है।

उन्होंने बताया कि भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) ने इस हवाई अड्डे का निर्माण किया. अभी सिक्किम का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा 124 किलोमीटर दूर पश्चिम बंगाल के बागडोगरा में है।

श्रीवास्तव ने बताया कि पाकयोंग हवाई अड्डा करीब 605 करोड़ रुपए की लागत से बनाया गया है और यह भारत-चीन सीमा से करीब 60 किलोमीटर दूर है। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में मुख्य रनवे के बगल में 75 मीटर लंबी एक अन्य पट्टी के निर्माण के बाद भारतीय वायुसेना इस हवाई अड्डे पर विभिन्न प्रकार के विमान उतार सकेगी।

एयरपोर्ट की मुख्य बातें-:

-: यह सिक्किम का पहला और भारत का 100वां एयरपोर्ट है।

-: पाक्योंग एयरपोर्ट समुद्र तल से 4,500 फीट की ऊंचाई पर बना है।

-: इस हवाई अड्डे को वर्ष 2008 में मंजूरी मिली थी।

-: यह एयरपोर्ट 206 एकड़ में फैला है। इसमें जियोटेक्निकल इंजिनियरिंग का इस्तेमाल किया गया है।

-: यहां की मिट्टी में एयरपोर्ट की जरूरतों के हिसाब से बदलाव किए गए हैं।

-: भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण अधिकारी के मुताबिक, पाक्योंग हवाई अड्डे का निर्माण लगभग 600 करोड़ रुपये में हुआ।

-: यह एयरपोर्ट भारत-चीन सीमा से तकरीबन 60 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

-: गंगटोक से इस हवाई अड्डे की दूरी 33 किलोमीटर है।


कमेंट करें