नेशनल

BHU चीफ प्रॉक्टर का ऐलान: लड़कियां पहन सकती हैं शार्ट्स, ले सकती हैं अल्कोहल

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
574
| सितंबर 29 , 2017 , 11:02 IST

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (बीएचयू) की नवनियुक्त चीफ प्रॉक्टर रोयाना सिंह ने पद संभालते ही फैसले लेने शुरू कर दिए हैं। सुरक्षा इंतजाम से जुड़े फैसले के बाद अब रोयना ने छात्राओं की ड्रेस और अल्कोहल के साथ मेस में नॉन वेजेटेरियन फूड से भी प्रतिबंध हटाने के आदेश दिए हैं।

Royana singh

प्रॉक्टर ने कहा- लड़कियां अपने पसंद के अनुसार कपड़े पहन सकती हैं

बीएचयू के 101 वर्ष के गौरवशाली इतिहास की पहली महिला चीफ प्रॉक्टर रोयाना बताती हैं, 'मेरा जन्म यूरोप में हुआ। मैंने ज्यादातर समय यूरोप और कनाडा में ट्रैवल करते हुए बिताया। इस लिहाज से लड़कियों के कपड़े पर रोक लगाना खुद पर प्रतिबंध लगाने जैसा होगा। आप अपना दिन सुबह छह बजे से शुरू करते हैं और रात साढ़े दस बजे खत्म और पूरे दिन आप अपनी पसंद और सुविधा अनुसार कपड़े नहीं पहन पा रही हैं तो ये इस शर्मनाक है।

Bhu 1

लड़कियों को जिसमें सुविधा मिले वैसे कपड़े पहन सकती हैं

वह आगे कहती हैं, 'मुझे लड़कों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले 'छोटे कपड़ों' के शब्द पर अजीब महसूस होता है। अगर कोई लड़की अपनी सुविधानुसार कपड़े पहनती है तो उन्हें आपत्ति क्यों है?' चीफ प्रॉक्टर रोयाना सिंह यूनिवर्सिटी के इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस में एनाटॉमी की प्रफेसर भी हैं। रोयाना 80 के दशक में फ्रांस के रोयन में नौ साल तक रह चुकी हैं।

हॉस्टल में लड़कियों के ड्रिंक लेने पर नहीं लगेगा रोक

वहीं अल्कोहल के सवाल पर रोयाना ने कहा, 'सभी लड़कियों की उम्र 18 साल से ज्यादा है तो ऐसे में हम उन पर ड्रिंक न करने की रोक क्यों लगाएं? जहां तक मैं जानती हूं कि मेरे मेडिकल हॉस्टल में वेजिटेरियन डाइट तभी मिलती थी जब ज्यादा संख्या में लड़कियां इसकी मांग रखती हैं और वहीं दूसरी लड़कियां विशेष दिनों में ही नॉनवेज खाती हैं।

Bhu 3

अनुशासन बनाए रखने की चुनौती

इससे पहले गुरुवार को ओएन सिंह की जगह चीफ प्रॉक्टर का पद संभालने के बाद प्रफेसर रोयाना सिंह ने कहा, 'हमारे सामने कैंपस में अनुशासन बनाए रखने की चुनौती है। हम छात्रों की मांग को पूरी करने में लगे हैं, इसके लिए पूरी कोशिश की जाएगी। शायद यहां की सुरक्षा में कोई कमी रह गई हो। कमिटी इसकी जांच कर रही है। जैसे ही हमें रिपोर्ट मिलेगी हम ऐक्शन लेंगे।' रोयाना सिंह ने कहा, 'हमने सुरक्षा की जांच के लिए एक कमिटी बनाई है, जिसमें कई लोगों का प्रतिनिधित्व शामिल होगा। इसके साथ ही कैंपस में कई जगहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।'

 

 

 


कमेंट करें

Ram Vilas Gupta

लड़कियों की इन मांगों को सुनकर मै यह समझ पाने मे असमर्थ हूँ कि BHU मे लड़कियाँ पढ़ने गई हैं, या फिल्मों मे काम करने?