नेशनल

मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन हुआ

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2473
| अगस्त 5 , 2018 , 15:50 IST

आज मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के नाम किया गया। मुगलसराय जंक्शन के नए नाम के बोर्ड से परदा हटाने के लिए रेलमंत्री पीयूष गोयल खुद मौजूद थे। इस मौके पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह सहित प्रदेश के कई मंत्रियों के साथ चंदौली के सांसद और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर महेंद्रनाथ पांडेय भी मौजूद रहे।

रविवार को ही पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से एकात्मता एक्सप्रेस  नाम की एक नई ट्रेन का शुभारंभ किया गया। इसके अलावा देश में पहली बार महिलाकर्मियों द्वारा संचालित मालगाड़ी के परिचालन का शुभारंभ किया जाएगा। बता दें कि सन् 1862 में दिल्ली-हावड़ा रेलमार्ग बनाए जाते समय मुगलसराय रेलवे स्टेशन वजूद में आया था।

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलने की घोषणा पहले ही कर दी थी, इसको अमली जामा पहनाने का काम पिछले महीने से तेज हुआ। रेलवे के साथ मुगलसराय जंक्शन की जगह पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन नाम रविवार को जुड़ गया।

पहले भी हुई थीं कोशिशें:- आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार से पहले भी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने अपने शासनकाल के दौरान इस स्टेशन का नाम बदलने का प्रयास किया था लेकिन सरकार की उस वक्त ये हो नहीं पाया था। लेकिन आज यह हो जाएगा।

दीनदयाल का मुगलसराय स्टेशन से यह है इतिहास:- साल 1968 में कानपुर से पटना के सफर पर निकले पंडित दीनदयाल उपाध्याय का मृत शरीर मुगलसराय स्टेशन पर रेलवे यार्ड में पाया गया था। उस समय हालांकि उनकी शिनाख्त नहीं हो पाई थी। बाद में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की तरफ से कई बार इस स्टेशन का नाम बदलकर 'पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन' करने की मांग उठती रही है। और आज ये हो पा रहा है।


कमेंट करें