खेल

रोहित शर्मा ने आज के ही दिन खेली थी 264 रनों की पारी, जिसे नहीं तोड़ पाया कोई बल्लेबाज

आशुतोष कुमार राय, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1610
| नवंबर 13 , 2018 , 14:57 IST

आज का दिन क्रिकेट इतिहास के लिए बहुत मायने रखता है। 13 नवंबर के दिन ही भारत के हिटमैन नाम से मशहुर क्रिकेटर रोहित शर्मा ने वनडे इतिहास का सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर बनाकर क्रिकेट की दुनिया में अपने बल्लेबाजी का लोहा मनवाया था।

1

रोहित ने इस मैच में 264 रन बनाए थे। (13 नवंबर, 2014) को बने इस रिकॉर्ड तक अभी तक कोई भी बल्लेबाज नहीं पहुंच सका है। रोहित शर्मा ने 264 रनों की पारी खेलते हुए दो दिग्गजों के रिकॉर्ड तोड़े उनमे मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर के 200 नाबाद और हरफनमौला वीरेंदर सहवाग की 219 रनों की पारी को भी पीछे छोड़ दिया था। यह दूसरा मौका था, जब उन्होंने वनडे में दो बार दोहरा शतक लगाया था।

हिटमैन ने अपनी इस ताबड़तोड़ पारी में 173 गेंदों का सामना किया जिसमें 33 चौके और 9 छक्के लगाए थे। बता दें कि रोहित शर्मा वनडे क्रिकेट में 3 बार डबल सेंचुरी लगाने वाले दुनिया के अकेले खिलाड़ी हैं।

3

रोहित शर्मा रिकॉर्ड पारी को याद करते हुए आईसीसी ने आज ट्वीट किया। बता दें कि इससे पहले दो नवंबर, 2013 को इस दिग्गज बल्लेबाज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेंगलुरु में दोहरा शतक जड़ने का कारनाम किया था। उन्होंने तीसरी बार 13 दिसंबर, 2017 को मोहाली में श्री लंका के खिलाफ नाबाद 208 रन बनाए थे।

रोहित को रास आता है नवंबर का महीना-:

रोहित शर्मा के लिए नवंबर का महीना कुछ खास है, क्योंकि उन्होंने वनडे क्रिकेट में दो बार दोहरा शतक लगाया है और दोनों ही बार यह कारनामा नवंबर में किया। 2 नवंबर 2013 को बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की टीम के खिलाफ शानदार 209 रनों की पारी खेली थी। इस मैच में रोहित ने चौकों से ज्यादा छक्के लगाए थे।

2

उनकी आकर्षक पारी में 12 चौके और 16 छक्के शामिल थे। इसके बाद 13 नवंबर 2014 को रोहित ने 264 रन बनाकर श्रीलंकाई गेंदबाजी आक्रमण को तहस-नहस कर डाला था। अपने पसंदीदा मैदान ईडन गार्डंस पर रोहित ने अपनी 264 रन की पारी में 173 गेंदों का सामना करते हुए 33 चौके और 9 छक्के लगाए थे।

रोहित के चौकों-छक्कों की बरसात में रचा था इतिहास-:

श्री लंका के खिलाफ 264 में से 186 रन मुंबई के इस बल्लेबाज ने चौकों और छक्कों से ही बना डाले थे। इस मैच में पारी की आखिरी गेंद (49.6) पर वह नुवान कुलसेकरा का शिकार बने थे। रोहित की धमाकेदार पारी की बदौलत टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर्स में 5 विकेट पर 404 रन बनाए थे। भारतीय टीम के विशाल स्कोर के जवाब में श्री लंकाई टीम 43.1 ओवर में 251 रन बनाकर आउट हो गई थी और मैच 153 रन से हार गई थी।


कमेंट करें