राजनीति

देश में सिर्फ इकलौते एनजीओ RSS के लिए जगह...नए भारत में आपका स्वागत है: राहुल

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1748
| अगस्त 29 , 2018 , 08:31 IST

भीमा कोरेगांव हिंसा के मामले में जांच के दौरान कई वामपंथी विचारकों, सामाजिक और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं के घरों पर पुलिस ने छापे मारे। जिसमें नक्सली समर्थक होने के शक में कुछ को पुलिस ने गिरफतार भी कर लिया। जिसको देखते हुए विपक्ष की पार्टी कांग्रेस ने बीजेपी के उपर हमला बोल दिया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि '...जो शिकायत करते हैं, उन्हें गोली मार दो। नए भारत में आपका स्वागत है। यहां केवल एक एनजीओ के लिए जगह है और वह है आरएसएस।'

बता दें कि मंगलवार को पुणे पुलिस ने देशभर के कथित नक्सल समर्थकों के घरों और कार्यालयों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की। इस मामले में जांच के मद्देनजर छापे के बाद अब तक कवि वरवरा राव, अरुण पेरेरा, गौतम नवलखा, वेरनोन गोन्जाल्विस और सुधा भारद्वाज को गिरफ्तार किया गया है।

उधर, सीपीआई नेता प्रकाश करात ने भी भीमा-कोरेगांव मामले में की गई छापेमारी और गिरफ्तारियों पर कहा, 'यह लोकतांत्रिक अधिकारों पर बड़ा हमला है। हम मांग करते हैं इन लोगों के खिलाफ दर्ज किए गए सभी केस वापस लिए जाएं और उन्हें जल्द से जल्द रिहा किया जाए।'

आपको बता दें कि भीमा कोरेगांव हिंसा की जांच कर रही पुणे पुलिस ने मंगलवार की सुबह मुंबई, दिल्ली, हैदराबाद, फरीदाबाद और रांची में एक साथ छापेमारी कर घंटों तलाशी ली औऱ फिर 5 लोगों को गिरफ्तार किया। पुणे पुलिस के मुताबिक सभी पर प्रतिबंधित माओवादी संगठन से लिंक होने का आरोप है।

इसे भी पढ़ें-: लोकतंत्र को गुमराह कर कॉरपोरेट व्यवस्था लाना चाहती है भाजपा: अखिलेश यादव

जबकि मानवाधिकार कार्यकर्ता इसे सरकार के विरोध में उठने वाली आवाज को दबाने की दमनकारी कार्रवाई बता रहे हैं। रांची से फादर स्टेन स्वामी, हैदराबाद से वामपंथी विचारक वरवरा राव, फरीदाबाद से सुधा भारद्धाज और दिल्ली से सामाजिक कार्यकर्ता गौतम नावलाखा की भी गिरफ्तारी भी हुई है।


कमेंट करें