नेशनल

ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी को UGC से मिला Autonomous Status

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
592
| मार्च 22 , 2018 , 18:20 IST

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने देश के 60 उच्च शिक्षण संस्थानों को ऑटोनॉमी यानी स्वायत्तता दी है। इसका मतलब है अब ये संस्थान अपने फैसले लेने के लिए यूजीसी पर डिपेंड नहीं रहेंगे। अब यूनिवर्सिटीज यूजीसी के परमिशन के बैगर ही नए कोर्स शुरू कर सकेंगे। यूनिवर्सिटी/कॉलेज को अधिकार होगा कि वो तय करे कि एडमिशन का नियम क्या होगा। पहले यूजीसी से पूछ कर सारे फैसले लेने पड़ते थे।

अब यूनिवर्सिटी/कॉलेज अपने यहां चलने वाले कोर्सेज की फीस खुद तय कर सकेंगे, शिक्षकों की नियुक्ति कर सकेंगे, एडमिशन के नियम तय कर सकेंगे।

UGC ने कुल 60 शिक्षण संस्थानों को ऑटोनॉमी के लिए चुना है। इनमें 5 सेंट्रल यूनिवर्सिटी, 21 स्टेट यूनिवर्सिटी, 24 प्राइवेट यूनिवर्सिटी और 10 अन्य कॉलेज शामिल हैं। अगर प्राइवेट यूनिवर्सिटी की बात करें तो केवल 2 यूनिवर्सिटी को ऑटोनॉमी दी गई है, जिसमें एक है सोनीपत की ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी और दूसरी गुजरात की पंडित दीन दयाल पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी।

ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी

सोनीपत स्थित ओपी जिंदल यूनिवर्सिटी हरियाणा की एकलौती यूनिवर्सिटी है जिसे ऑटोनॉमी दी गई है देश में कई अन्य प्रतिष्ठित निजी विश्वविद्यालय हैं लेकिन उन्हें आज तक स्वायत्तता का दर्जा नहीं मिला है। 

जिंदल यूनिवर्सिटी के संस्थापक उद्योगपति नवीन जिंदल ने ऑटोनोमी मिलने पर कहा,

इस उपलब्धि ने जिंदल यूनिवर्सिटी की प्रतिबद्धता को दोहराया है। हम एमएचआरडी और यूजीसी के आभारी हैं जिन्होंने हमारे प्रयासों की सराहना की है। अब ये जरूरी है कि भारत भी अपने विश्वविद्यालयों को बदलते वैश्विक परिदृश्य में उनकी भूमिकाओं को फिर से परिभाषित करे। यह समय है कि भारत विश्वस्तरीय विश्वविद्यालयों के साथ रैंकों में शामिल हो और हमारे छात्रों के लिए अकादमिक वातावरण में सुधार करे।

आपको बता दें कि जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी को साल 2009 में नवीन जिंदल ने अपने पिता ओ.पी. जिंदल की याद में शुरू किया था। National Accreditation & Assessment Council (NAAC) द्वारा जिंदल यूनिवर्सिटी को ग्रेड A सम्मान प्राप्त है। ये एशिया की एकलौती यूनिवर्सिटी है जो 1:13 टीचर-स्टूडेंट रेशियो को मानती है जिसका मतलब है कि 13 स्टूडेंट पर एक टीचर।

जिंदल यूनिवर्सिटी में आठ अलग-अलग डिपार्टमेंट्स हैं। 

Jindal School of Government and Public Policy (JSGP)

Jindal School of Liberal Arts & Humanities (JSLH)

Jindal School of Journalism & Communication (JSJC)

Jindal School of Art & Architecture (JSAA)

Jindal School of Banking & Finance (JSBF) 

 Jindal Global Law School (JGLS)

Jindal Global Business School (JGBS)

 Jindal School of International Affairs (JSIA)


कमेंट करें