राजनीति

सारदा चिट फंड घोटाला मामले में CBI की कार्रवाई के खिलाफ विपक्ष की बैठक

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1535
| फरवरी 5 , 2019 , 11:18 IST

सारदा चिट फंड घोटाला मामले में सीबीआई की कार्रवाई के खिलाफ विपक्ष एकजुट हो चुका है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सीबीआई के इस कार्रवाई को केंद्र सरकार पर तानाशाही रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए धरने पर बैठी हैं। वहीं उन्हे 21 विपक्षी पार्टियों का समर्थन भी मिल रहा है। इसी कड़ी में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और डीएमके सांसद कनीमोझी ने ममता बनर्जी से मुलाकात की है। तो वहीं राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी विपक्ष के बड़े नेताओं ने भी बैठक की।

विपक्षी पार्टियों के कई कद्दावर नेताओं ने सोमवार शाम यहां एनसीपी प्रमुख शरद पवार के आवास पर मुलाकात की और केंद्र द्वारा सीबीआई के दुरुपयोग सहित विभिन्न मुद्दों पर बीजेपी से मुकाबले की अपनी रणनीति पर चर्चा की। सूत्रों के मुताबिक दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू, जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला, तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरके ओ ब्रायन, एनसीपी की नेता सुप्रिया सुले, आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह सहित कई अन्य नेता मौजूद थे। बाद में पवार ने कहा कि दिन में कई विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद के चैंबर में बैठक कर कुछ मुद्दों पर चर्चा की थी।

बता दें विपक्षी नेताओं ने सोमवार को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि उन लोगों को निशाना बनाने के लिए सीबीआई का दुरुपयोग किया जा रहा है। अपने आवास पर करीब एक घंटे तक चली बैठक के बाद पवार ने पत्रकारों को बताया कि, 'हमने कृषि क्षेत्र की समस्या और बेरोजगारी पर चर्चा की, क्योंकि इससे युवा पीढ़ी प्रभावित हो रही है। हमने लोकतांत्रिक संस्थाओं पर हो रहे हमलों पर चर्चा की। हमने तय किया कि इन तीन मुद्दों पर चर्चा के लिए हम फिर मिलेंगे।’

वहीं आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और टीडीपी के मुखिया चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि पश्चिम बंगाल में जो हुआ उसकी हम सभी ने निंदा की है। अब मंगलवार को हम एक बार फिर बैठेंगे और इस मुद्दे पर सामूहिक निर्णय लेंगे। यह पूछे जाने पर कि इस बैठक में कांग्रेस क्यों नहीं शामिल हुई नायडू ने कहा कि उन्होंने खुद इस बारे में शरद पवार से पूछा था। उन्होंने बताया कि यह शिष्टाचार भेंट थी और इस बैठक के बारे में किसी को बताया नहीं गया था। मंगलवार को होने वाली बैठक में कांग्रेस नेतृत्व शामिल होगा।

क्या है विवाद

आपको बता दें सीबीआई की 40 अधिकारियों की एक टीम कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से चिटफंड घोटाले के सिलसिले में पूछताछ करने के लिए रविवार को उनके घर पहुंची थी लेकिन टीम को उनसे मिलने की अनुमति नहीं दी गई और उन्हें जीप में भरकर थाने ले जाया गया। टीम को थोड़े समय के लिए हिरासत में भी रखा गया। घटना के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी रविवार की रात 8:30 बजे से धरने पर बैठी हुई हैं। इसे वह ‘संविधान बचाओ’ विरोध प्रदर्शन कह रही हैं।


कमेंट करें