राजनीति

कश्मीर मु्द्दे पर बोले चिदंबरम, कहा- आजादी नहीं बल्कि स्वायत्तता चाहते हैं कश्मीरी

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
263
| अक्टूबर 28 , 2017 , 16:57 IST

पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने जम्मू-कश्मीर की स्वायत्तता की मांग को जायज ठहराया है। उन्होंने कहा है कि, कश्मीर के ज्यादातर लोग आजादी नहीं बल्कि स्वायत्तता चाहते हैं। गुजरात के राजकोट में बोलते हुए चिदंबरम ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में हुई अपनी बातचीत के आधार पर मैं मानता हूं कि वहां आजादी का सीधा मतलब स्वायत्तता है। यहां क्षेत्रीय स्वायत्तता देने के बारे में विचार करना चाहिए। स्वायत्तता देने के बावजूद वे भारत का ही हिस्सा रहेंगे।

वहीं, चिदंबरम ने अहमद पटेल पर लगे आरोंपों पर सफाई देते हुए चिदंबरम है कि अगर कोई किसी अस्पताल में कर्मचारी रहता है और उसके बाद उसके आईएस (आतंकी संगठन) से संबंध हो जाते हैं, तो इसके लिए उस अस्पताल में तीन साल पहले ट्रस्टी रहा इंसान कैसे दोषी हो सकता है।

बता दें कि, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी ने शुक्रवार(27 अक्टूबर) को अहमद पटेल पर आरोप लगाया था कि जिस अस्पताल से पकड़े गए आतंकी का संबंध रहा है, अहमद पटेल उसी अस्पताल के ट्रस्टी रहे चुके हैं।

इस बीच चिदंबरम ने जीएसटी के मुद्दे को लेकर मोदी सरकार को जमकर आलोचना की। उन्होंने कहा कि, नोटबंदी और जीएसटी (गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स) ने 2014 से बेहद धीमी अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया है। मैं वित्त मंत्री होता और पीएम ने मुझे नोटबंदी के लिए कहा होता, तो मैं इस्तीफा दे देता।

इतना ही नहीं चिदंबरम ने ताजमहल को लेकर दिए गए विवाद बयानों पर कहा कि ये बहुत ही दुखद बात है। ताज के बारे में जो लोग भी अपमानजनक बयान देते हैं उन्हें या तो ताज के इतिहास की जानकारी नहीं है या फिर वे भारत की साझी संस्कृति से अनजान हैं।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें