नेशनल

जम्मू एवं कश्मीर में राजनीतिक विरोध के बीच 9 चरणों में होंगे पंचायत चुनाव

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1407
| सितंबर 16 , 2018 , 14:29 IST

निर्वाचन आयोग ने रविवार को घोषणा की कि जम्मू एवं कश्मीर में पंचायत चुनाव 9 चरणों में आयोजित होंगे। इसकी शुरुआत 17 नवंबर से होगी। मुख्य निर्वाचन अधिकारी शलीन काबरा ने यह घोषणा की। इससे एक दिन पहले निर्वाचन आयोग ने कहा था कि राज्य में शहरी स्थानीय निकायों के चुनाव 8 अक्टूबर से शुरू होंगे और यह चार चरणों में होंगे। 

काबरा ने संवाददाताओं से कहा, "पंचायत चुनावों के लिए मतदान 17, 20, 24, 27, 29 नवंबर व 1, 4, 8 व 11 दिसंबर को होंगे।" उन्होंने कहा, "यह चुनाव पार्टी के आधार पर नहीं कराए जा रहे और इसलिए प्रत्येक चरण के खत्म होने के बाद मतगणना की जाएगी।"

अधिकारी ने कहा, "इस घोषणा के साथ आदर्श आचार संहिता प्रभावी हो गई है और संभी संबंधित लोगों से इसका सख्ती से पालन किए जाने की उम्मीद है।" नेशनल कॉन्फ्रेस व पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने घोषणा की है कि वे चुनावों से दूर रहेंगे।

महबूबा ने किया था पंचायत चुनाव का बहिष्कार-:

बता दें कि सोमवार को जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती ने अपनी पार्टी की एक बैठक के बाद राज्य के पंचायत चुनाव का बहिष्कार करने का ऐलान किया था। महबूबा की दलील थी कि प्रदेश में अनुच्छेद 35ए को लेकर एक बड़ी अनिश्चितता और डर का माहौल है, ऐसे में अगर इन स्थितियों में सरकार कोई भी चुनाव कराती है तो परिणामों के बाद उसकी विश्वसनीयता पर सवाल खड़े होंगे।

कांग्रेस ने किया विरोध-:

प्रदेश में बीते कई दिनों से जारी विरोध के बीच पंचायत चुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी ने भी केंद्र की आलोचना की है। कांग्रेस की ओर से पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर ने बुधवार को पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि सरकार ने बिना जमीनी हालात की हकीकत जाने पंचायत चुनाव की घोषणा की है। मीर ने कहा है कि केंद्र को अपना स्टैंड स्पष्ट करते हुए बताना चाहिए कि क्या वह सच में चुनाव कराना चाहती है या यह सिर्फ एक नाटक जैसा है।


कमेंट करें