खेल

IPL 2018: ऋषभ पंत का विस्फोटक शतक, 63 गेंद पर 128 रन (रिकॉर्ड)

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1194
| मई 11 , 2018 , 09:59 IST

दिल्ली डेयरडेविल्स के ऋषभ पंत इंडियन प्रीमियर लीग 2018 में शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। पंत ने गुरुवार को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की। पंत के आतिशी 63 गेंदों पर 128 रनों की पारी की बदौलत दिल्ली ने 20 ओवर में 187/5 का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। पंत ने अपनी पारी में कुल 15 चौके और सात छक्के लगाए। 

आईपीएल के इस सीजन में अभी तक शेन वॉटसन (चेन्नै सुपर किंग्स) और क्रिस गेल (किंग्स इलेवन पंजाब) ने ही शतक लगाए हैं। इसके साथ ही ऋषभ पंत को ऑरेंज कैप भी मिल गई है। उनके नाम अब कुल 521 रन हो गए हैं। पंत ने अपने पहले 50 रन 36 गेंदों पर पूरे किए। इस दौरान उन्होंने 8 चौके एक छ्क्का लगाया। हाफ सेंचुरी के बाद पंत का अंदाज और आक्रामक हो गया। उन्होंने 56 गेंदों पर अपनी सेंचुरी पूरी की। अपनी सेंचुरी में उन्होंने 13 चौके और चार छक्के लगाए।

आईपीएल में 1000 रन बनाने वाले सबसे युवा बल्लेबाज

इसके साथ ही पंत आईपीएल में 1000 रन बनाने वाले सबसे युवा बल्लेबाज भी बन गए। उन्होंने 20 साल 218 दिनों में 1000 रन पूरे किए। इसके बाद संजू सैमसन का नाम आता है जिन्होंने 21 साल 183 दिनों में 1000 रन पूरे किए थे। पंत को इस मैच से पहले 1000 रन पूरे करने के लिए 43 रनों की जरूरत थी जो उन्होंने हासिल कर लिया। कोहली ने 22 साल 175 दिनों में यह उपलब्धि हासिल की थी। रोहित शर्मा ने 22 साल 340 दिन में यह मुकाम हासिल किया था। सुरेश रैना ने 23 साल 118 दिन और श्रेयस अय्यर ने 23 साल 142 दिन में आईपीएल में 1000 रन पूरे किए थे।

पंत की तूफानी पारी भी दिल्ली को नहीं दिला सकी जीत

दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। पृथ्वी शॉ और जेसन रॉय ने पहले विकेट के लिए 21 रन जोड़े। शाकिब अल हसन ने दोनों ही बल्लेबाजों को एक ही ओवर में आउट कर दिया। यह पारी का चौथा ओवर था। पंत और अय्यर पर पारी को संभालने की जिम्मेदारी थी। यह साझेदारी कुछ जम पाती इससे पहले 43 के कुल स्कोर पर पंत और अय्यर के बीच विकेटों के बीच गलतफहमी हो गई। इसका खमियाजा दिल्ली को अय्यर के विकेट से चुकाना पड़ा।

इसके बाद पंत ने हर्षल पटेल के साथ मिलकर रनों की रफ्तार को कायम रखा। पटेल में 17 गेंदों पर 24 रन बनाकर रन आउट हुए। पंत अब दो-दो रन आउट में शामिल हो चुके थे। ऐसे में उन पर अब दिल्ली की पारी को मजबूत स्कोर तक पहुंचाने की जिम्मेदारी थी। और उन्होंने उसे बखूबी निभाया। अय्यर ने हैदराबाद के किसी भी गेंदबाज को नहीं बख्शा। डेथ ओवर्स में दुनिया के सबसे खतरनाक गेंदबाज माने जाने वाले भुवनेश्वर कुमार को भी नही बख्शा। उन्होंने भुवनेश्वर के आखिरी ओवर में तीन छक्के और दो चौके लगाए। भुवी ने चार ओवरों में 51 रन दिए और उन्हें ग्लेन मैक्सवेल के रूप में एक विकेट मिला।


कमेंट करें