नेशनल

पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए नागपुर मेट्रो को दिखाई हरी झंडी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1647
| मार्च 8 , 2019 , 08:45 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को नागपुर में मेट्रो रेल के पहले चरण के अंतर्गत 13.5 किलोमीटर लंबे खंड का उद्घाटन किया। इसके साथ ही नागपुर, मुंबई के बाद महाराष्ट्र का दूसरा मेट्रो शहर बन गया। सौर ऊर्जा के माध्यम से 65 प्रतिशत बिजली पैदा करने के साथ नागपुर मेट्रो की अब तक की 'सबसे हरी-भरी मेट्रो' के रूप में प्रशंसा हो रही है।

उद्घाटन को 'ऐतिहासिक अवसर' करार देते हुए मोदी ने कहा कि पुणे और ठाणे में भी मेट्रो रेल परियोजनाएं शुरू होने वाली हैं। वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से परियोजना का उद्घाटन करते हुए मोदी ने कहा, "मैं खुद को बहुत ही खुशकिस्मत महसूस कर रहा हूं कि 2014 में मैंने इस मेट्रो रेल की आधारशिला रखी थी। अब मैं नागपुर के लोगों के सपने को पूरा होते देख खुश हूं।"

उन्होंने कहा कि नागपुर दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ते शहरों में से एक है। वर्ष 2050 तक शहर की आबादी दोगुनी होने का अनुमान है, इसलिए इसे 21वीं सदी की बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराना अत्यावश्यक है और मेट्रो रेल इस दिशा में एक कदम है।

मोदी ने कहा, "यह प्रदूषण और भीड़भाड़ को कम करने के अलावा इस पूरे क्षेत्र में यात्रा का चेहरा बदल देगा और सभी सीजन में दक्षता, सुरक्षा व सुगमता को बढ़ाएगा।" उन्होंने कहा, "मेट्रो रेल परियोजना का कार्य पूरा होने के बाद नागपुर के लोग अपने वाहनों के बजाय इसका उपयोग कर सकते हैं और सड़क यातायात को कम कर सकते हैं।"

प्रधानमंत्री ने कहा कि जब 2014 में राजग सरकार सत्ता में आई थी, तब देश में मेट्रो रेल नेटवर्क केवल 250 किलोमीटर तक फैला हुआ था। उन्होंने कहा, "पिछले पांच वर्षों में यह 650 किलोमीटर तक बढ़ गया है। इसके अलावा विभिन्न शहरों में 800 किलोमीटर की दूरी पर काम पूरे जोरों शोरों से चल रहा है।"

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मेट्रो रेल न केवल परिवहन क्षेत्र में क्रांति ला सकती है व बहुमुखी गतिशीलता में सुधार कर सकती है, बल्कि शहरों के विस्तार, आसपास के क्षेत्रों के पारिस्थितिकी तंत्र को बदलने और नौकरियां पैदा करने में भी मदद कर सकती है, जिससे उस क्षेत्र के समग्र विकास में मदद मिलती है।

महाराष्ट्र मेट्रो के प्रबंध निदेशक बृजेश दीक्षित ने कहा कि खपरी और सीताबुलडी के बीच फैले नागपुर मेट्रो के 13.5 किलोमीटर लंबे मार्ग में पांच स्टेशन हैं और यह शुक्रवार से जनता के लिए खुलेंगे। मोदी ने नई मेट्रो में पहले दिन सभी के लिए मुफ्त यात्रा की घोषणा की।


कमेंट करें