राजनीति

बाबा भोलेनाथ काफी वर्षों से बंधे हुए थे, अब उन्हे मिलेगी मुक्ति- पीएम मोदी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2072
| मार्च 8 , 2019 , 10:22 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के दौरे पर है। वाराणसी, कानपुर और गाजियाबाद का दौरा कर विभिन्न विकास परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे। मोदी ने वाराणसी पहुंच काशी विश्वनाथ मंदिर गए और वहां के संपर्क मार्ग के सौंदर्यीकरण व सुदृढ़ीकरण परियोजना की आधारशिला रखी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुदाल चला काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की नींव रखी। ये कॉरिडोर बाबा विश्वनाथ मंदिर से शुरू होकर गंगा किनारे घाट तक जाएगा। इस कॉरिडोर को लेकर काफी विवाद रहा है, लेकिन इसके बावजूद प्रधानमंत्री ने इस कॉरिडोर को आगे बढ़ाया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जब कॉरिडोर के लिए घरों को तोड़ा गया, तो करीब 40 मंदिर मुक्त कराए। लोगों ने घरों के अंदर मंदिर छुपाए हुए थे, लेकिन अब उनके दर्शन भी हो पाएंगे। उन्होंने कहा कि कॉरिडोर मंदिर को घाट से जोड़ेगा, अब मां गंगा के साथ सीधे भोले बाबा को जोड़ दिया है। उन्होंने कहा कि मंदिर के आसपास जो धाम बनेगा, उससे लोगों को काफी फायदा हुआ है। उन्होंने कहा कि 2014 में जो बुलावा आया था, वो इन्हीं विकास के कामों के लिए था, ये सिर्फ काशी के लोगों से नहीं बल्कि देश के लोगों से जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि मेरे कार्यकाल के शुरुआती तीन साल में राज्य सरकार का सहयोग मिला होता तो आज इस काम का उद्घाटन कर देता, योगी जी के आने के बाद काम की रफ्तार बढ़ी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब मैं राजनीति में नहीं था, तब भी सोचता था कि यहां कुछ करना चाहिए। लेकिन ये मेरे नसीब में ही लिखा था मेरे हाथ से ही इसका काम हुआ। उन्होंने कहा कि बाबा भोलेनाथ काफी वर्षों से बंधे हुए थे, लेकिन आज इस काम से उन्हें भी मुक्ति मिलेगी। इसके साथ ही उन्हें भक्तों को भी इससे खुशी मिलेगी।

प्रधानमंत्री इसके बाद शहर के दीनदयाल हस्तकला संकुल में राष्ट्रीय महिला आजीविका सम्मेलन-2019 में भाग लेंगे। वहां स्वसहायता समूह की पांच महिलाओं को प्रशस्तिपत्र देंगे। स्वसहायता समूह की कुछ महिलाएं प्रधानमंत्री के साथ अपना अनुभव भी साझा करेंगी।

दीनदयाल अंत्योदय योजना द्वारा संपोषित महिला स्वसहायता समूहों की ओर से प्रधानमंत्री को 'भारत के वीर' कोष के लिए एक चेक सौंपा जाएगा। मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे।

कानपुर के पनकी ऊर्जा संयंत्र में मोदी 660 मेगावाट क्षमता के विद्युत उत्पादन एवं वितरण इकाई का उद्घाटन करेंगे। वह वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये अमौसी स्थित चौधरी चरण सिंह हवाईअड्डे सेलखनऊ तक मेट्रो रेल परियोजना को हरी झंडी दिखाएंगे।

प्रधानमंत्री आगरा में मेट्रो रेल परियोजना की आधारशिला रखेंगे और प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को आवास की चाबियां सौंपने के बाद जनसभा को संबोधित करेंगे। मोदी गाजियाबाद में दिलशाद गार्डन-शहीद स्थल (नया बस अड्डा) मेट्रो मार्ग का उद्घाटन करेंगे। मेट्रो के इस उच्चीकृत गलियारा खंड में आठ स्टेशन होंगे।

प्रधानमंत्री हिंडन वायुसेना केंद्र पर सिविल टर्मिनल का उद्घाटन भी करेंगे। हिंडन स्थित इस नए नागरिक उड्डयन टर्मिनल से संचालित होनेवाले घरेलू उड़ानों का पश्चिमी उत्तर प्रदेश और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के यात्रियों को फायदा होगा।

मोदी दिल्ली और मेरठ के बीच वाया गाजियाबाद हाई स्पीड और हाई फ्रिंक्वेंसी रेल आधारित रिजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (आरआरटीएस) की बुनियाद भी रखेंगे। प्रधानमंत्री गाजियाबाद में शिक्षा, आवास पेयजल, स्वच्छता एवं गंदा नाला प्रबंधन संबंधी विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण भी करेंगे।


कमेंट करें