नेशनल

PM मोदी ने की 'स्वच्छता ही सेवा आंदोलन' की शुरुआत, खुद झाड़ू लगाकर किया श्रमदान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2196
| सितंबर 15 , 2018 , 12:20 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 'स्वच्छता ही सेवा आंदोलन' अभियान के चार साल पूरे होने के मौके पर पहले स्वच्छाग्रहीयों से संवाद किया और उसके बाद स्वयं झाड़ू लगाकर श्रमदान किया। इस दौरान पीएम मोदी बच्चों से भी मिले।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज से 'स्वच्छता ही सेवा आंदोलन' अभियान के चार साल पूरे होने पर अवसर पर देश के 18 जगहों पर वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के जरिए संवाद किया। इस आंदोलन का हिस्सा बनने के लिए पीएम मोदी ने करीब 2000 लोगों के खत लिखे हैं। पीएम इस अभियान की शुरुआत राष्ट्रीय स्तर पर की।

अपने संवाद के दौरान पीएम मोदी ने महानायक अमिताभ बच्चन से भी संवाद किया। इस संवाद में अमितभ बच्चन ने स्वच्छता से जुड़े अपने अनुभवों को साझा किया।

अमिताभ बच्चने से संवाद के बाद पीएम मोदी ने रतन टाटा से संवाद किया। पीएम ने रतन टाटा के स्वच्छता के लिए किए गए कार्यों को सराहा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि ये आंदोलन 2 अक्टूबर के महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इस आंदोलन को सफल बनाने के लिए उन्होंने 2000 लोगों के पत्र लिखकर समर्थन मांगा है। इस पत्र में पीएम मोदी ने स्वच्छ भारत मिशन की अब तक की सफलता के आंकड़े भी बताए हैं।

स्वछच्छता पखवाड़ा 15 सितंबर से शुरु होकर दो अक्तूबर महात्मा गांधी के जन्मदिन के मौके पर समाप्त होगा। इस दौरान देश भर में 20 करोड़ लोगों को अभियान से जोड़ने का लक्ष्य बनाया गया है। इसके साथ ही स्वच्छ भारत अभियान को 2 अक्टूबर से पूरे चार साल हो जाएंगे।

पीएम मोदी ने कहा कि चार साल पहले ही 2 अक्टूबर को गांधी जी की जयंती के अवसर पर स्वच्छ भारत अभियान की शुरूआत की गयी थी। उनका मानना है कि, स्वच्छ भारत मिशन ने स्वच्छ भारत के बापू के सपने को पूरा करने के उद्देश्य से एक ऐतिहासिक जन आंदोलन ने कामयाब 4 साल पूरे किए हैं।

पीएम मोदी ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत पिछले चार साल में 8.5 करोड़ शौचालय बनाए गए हैं। जिसके बाद मौजूदा वक्त में 90 फीसदी से ज्यादा भारतीय शौचालय का इस्तेमाल कर पाते हैं, जबकि 2014 में 40 फीसदी से भी कम लोग शौचालय का उपयोग कर रहे थे। उन्होंने यह भी बताया कि 4.25 लाख गांव, 430 जिले, 2800 शहर और 19 राज्य व संघशासित राज्य खुले में शौच मुक्त हो गए हैं।


कमेंट करें