नेशनल

मेरे 'मन की बात' में नहीं है कोई राजनीति- पीएम मोदी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1560
| नवंबर 25 , 2018 , 12:57 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने मासिक रेडियो संबोधन 'मन की बात' में 50वीं बार देशवासियों को संबोधित किया। मोदी ने देश को संबोधित करते हुए कहा, "इस कार्यक्रम में आवाज मेरी होती है लेकिन भावनाएं देशवासियों की होती हैं। रेडियो जन-जन से जुड़ा हुआ है। रेडियो की बहुत बड़ी ताकत है। इसलिए इसकी बराबरी कोई नहीं कर सकता। यही वजह रही कि मैंने लोगों से सीधे संवाद के लिए रेडियो का चयन किया।"

उन्होंने कहा, "मन की बात से देश में बड़े पैमाने पर जनांदोलनों को बढ़ावा मिला है। मन की बात ने समाज में सकारात्मकता की भावना बढ़ाई है।

एक श्रोता के इस कार्यक्रम को राजनीति से दूर रखने के सवाल पर मोदी ने कहा, "जब मैंने मन की बात शुरू की थी, तब मैंने सोच लिया था कि ना इसमें राजनीति हो, न सरकार की वाहवाही हो। ना मोदी हो। मेरे इस संकल्प को निभाने के लिए सबसे बड़ा संबल आप सबसे मिला। मैंने कभी इस मंच का राजनीतिकरण नहीं होने दिया। हर मन की बात से पहले आने वाले पत्रों, ऑनलाइन कमेंट, फोन कॉल में श्रोताओं की ओर से साफ होता है। मोदी आएगा, चला जाएगा लेकिन यह देश अटल रहेगा। हमारी संस्कृति अमर रहेगी।"

2014 में हुई थी शुरुआत

पीएम मोदी ने 2014 में पद संभालने के बाद उसी साल अक्टूबर से इस कार्यक्रम की शुरुआत की थी। इसके तहत वह हर महीने के अंतिम रविवार को जनता से रेडियो के जरिए संवाद करते हैं। इसमें न सिर्फ पीएम मोदी अपने मन की बात रखते हैं, बल्कि आम लोगों से सुझाव और विचार भी मांगते हैं। उन सुझावों-विचारों को कार्यक्रम में शामिल किया जाता रहा है।

पिछले चार बरसों में मन की बात के दौरान कई ऐसे मौके भी आए, जिससे देश की नीतियां और कई नए ट्रेंड बने। खास बात यह थी कि पीएम मोदी ने इस कार्यक्रम को पूरी तरह अराजनीतिक बनाए रखा।

ओबामा के साथ भी मन की बात

2015 में प्रधानमंत्री मोदी के साथ तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी संयुक्त रूप से इस कार्यक्रम में शिरकत की थी और देश के लोगों के साथ अपने मन की बात की थी।


कमेंट करें