महासमर 2019

4 दिवसीय दौरे पर यूपी पहुंची प्रियंका गांधी, लखनऊ में मैराथन मंथन से प्रचार का करेंगी शुरूआत

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1553
| मार्च 17 , 2019 , 14:38 IST

प्रियंका गांधी 17 से 20 मार्च तक यूपी दौरे पर रहेंगी। इस दौरान वो लखनऊ, इलाहाबाद, भदोही, मिर्जापुर और वाराणसी का दौरा करेंगी। गांवों और घाटों पर जगह जगह प्रियंका के स्वागत की तैयारी की गई है। इस दौरान पुलवामा में शहीद हुए महेश राज यादव के परिजनों से भी मुलाकात करेंगी।

प्रियंका गांधी यहां प्रदेश कार्यालय में पार्टी नेताओं के साथ बैठक करेंगी। बैठकों का दौर शाम सात बजे तक चलेगा। लखनऊ के बाद वह पूर्वांचल के दौरे पर जाएंगी और गंगा में स्‍टीमर के जरिए यात्रा करके अगले तीन दिनों तक जनसभाओं और रैलियों में हिस्सा लेंगी। इसके बाद उनका दौरे के दूसरे चरण में स्‍टीमर के जरिए ही यूपी के बलिया से बिहार के छपरा तक जाने का भी कार्यक्रम है।

विवार को लखनऊ में नेताओं से मैराथन मंथन के बाद प्रियंका गांधी सोमवार से 3 दिन के चुनावी सफर की शुरुआत करेंगी। इसके तहत वो गंगा के रास्ते प्रयागराज से वाराणसी तक जाएंगी। साथ ही भदोही और मिर्जापुर में मंदिर दर्शन के साथ मिर्जापुर में जनसभा और रोड शो भी करेंगी।

प्रियंका गांधी 18 मार्च से इलाहाबाद से स्‍टीमर के जरिए 'गंगा-जमुनी तहजीब यात्रा' की शुरुआत करेंगी। प्रयागराज से शुरू होकर उनकी यह यात्रा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में पूरी होगी। उनके इस दौरे को अब प्रशासन ने भी अनुमति दे दी है। तय कार्यक्रम के मुताबिक, प्रियंका वाड्रा मीरजापुर पहुंचकर मां विंध्‍यवासिनी और चंद्रिका देवी मंदिर में दर्शन करेंगी। इसके बाद वह मौलाना इस्‍माइल चिश्‍ती की मजार पर चादर चढ़ाने जाएंगी। 20 मार्च को वाराणसी पहुंचने से पहले अदलपुरा स्थित शीतला मंदिर जाकर दर्शन-पूजन करेंगी। वाराणसी सीमा में प्रवेश करने के साथ सबसे पहले गंगा तट पर स्थित शूलटंकेश्‍वर मंदिर में मत्‍था टेकेंगी।

वाराणसी में गंगा पार रामनगर में उनका पहला संवाद कार्यक्रम मल्लाहों के साथ होगा। रामनगर कस्‍बे का भ्रमण करने के दौरान प्रियंका गांधी पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्‍त्री के आवास पर भी जाएंगी। रामनगर से अस्‍सी घाट आकर स्‍थानीय जनता और जैन समाज के प्रतिनिधियों से मुलाकात भी करेंगी। अस्‍सी घाट से स्‍टीमर द्वारा दशाश्‍वमेध घाट आकर बाबा विश्‍वनाथ और काशी के कोतवाल बाबा काल भैरव के दर्शन के बाद वह कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगी। साढ़े सात घंटे के काशी प्रवास में जैन समाज की ओर से आयोजित होली मिलन समारोह में शिरकत करने के बाद वह देर शाम बाबतपुर एयरपोर्ट से लौट जाएंगी।


कमेंट करें