राजनीति

भाईचारे पर टिकी है कांग्रेस, BJP और RSS की विचारधारा को जीतने नहीं देंगे : राहुल गांधी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1057
| मार्च 31 , 2018 , 19:49 IST

बिहार के कई जिलों में सांप्रदायिक तनाव का माहौल बना हुआ है। इसी बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हिंसा की घटनाओं को लेकर भाजपा और संघ को निशाने पर लिया। राहुल गांधी ने बीजेपी और आरएसएस पर दंगे भड़काने का आरोप लगाया है। राहुल ने अपने बेटों को खोने वालें दिल्ली के यशपाल सक्सेना और पश्चिम बंगाल के इमाम रशीदी के संदेश ट्वीट किए।

राहुल ने लिखा- अपने बेटों को नफरत और सम्प्रदायिकता के कारण खोने के बाद यशपाल सक्सेना और इमाम रशीदी के संदेश ये दिखाते हैं कि हिन्दुस्तान में हमेशा प्यार नफरत को हराएगा। कांग्रेस की नींव भी करुणा और आपसी भाईचारे पर टिकी है। हम नफरत फैलाने वाली BJP/RSS की विचारधारा को जीतने नहीं देंगे।

जो हुआ उसका दुख है, लेकिन मैं मुसलमानों के खिलाफ नफरत का माहौल नहीं चाहता:

अंकित की हत्या पर यशपाल सक्सेना ने संदेश दिया था, "मैं भड़काऊ बयान नहीं चाहता हूं। जो हुआ है उसका मुझे गहरा दुख है, लेकिन मैं मुसलमानों के खिलाफ नफरत का माहौल नहीं चाहता। हां, जिन्होंने मेरे बेटे की हत्या की वो मुसलमान थे, लेकिन सभी मुसलमान हत्यारे नहीं होते। आप मेरा इस्तेमाल सांप्रदायिक तनाव फैलाने में न करें। मैं सभी से अपील करता हूं कि इसे माहौल खराब करने के लिए धर्म से न जोड़ें।"

- अापको बता दें कि अंकित सक्सेना का दिल्ली के खयाला इलाके में रहने वाली लड़की से अफेयर था। दोनों शादी करने वाले थे। अंकित 1 फरवरी को लड़की से मिलने गया था। इसी दौरान लड़की के घरवालों ने अंकित पर धारदार हथियार से हमला कर दिया।

मैं नहीं चाहता कि कोई दूसरा परिवार अपना बेटा खोए:

अपने बेटे की हत्या पर इमाम ने कहा कि “मैं शांति चाहता हूं। मेरा बेटा चला गया है। मैं नहीं चाहता कि कोई दूसरा परिवार अपना बेटा खोए। मैं नहीं चाहता कि अब और किसी का घर जले। मैंने लोगों से कहा है कि अगर मेरे बेटे की मौत का बदला लेने के लिए कोई कार्रवाई की गई तो मैं आसनसोल छोड़ कर चला जाऊंगा। मैंने लोगों से कहा है कि अगर आप मुझे प्यार करते हैं तो उंगली भी नहीं उठाएंगे। मैं पिछले तीस साल से इमाम हूं, मेरे लिए ज़रूरी है कि मैं लोगों को सही संदेश दूं और वो संदेश है शांति का। मुझे व्यक्तिगत नुकसान से उबरना होगा।”

-बता दें कि पश्चिम बंगाल में पिछले दिनों रामनवमी के मौके पर भड़की हिंसा में इमाम के 16 साल के बेटे सिबतुल्ला की मौत हो गई थी।


कमेंट करें