राजनीति

लालू के बाद अब राहुल ने भी की पीएम मोदी के भाषण शैली की नकल, देखिए वीडियो

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
485
| अक्टूबर 23 , 2017 , 18:49 IST

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर गुजरात के गांधीनगर में आयोजित रैली में जमकर हमला बोला। इस दौरान राहुल ने अनूठे अंदाज में नोटबंदी के फैसले को लेकर पीएम मोदी की नकल उतारी। राहुल ने कहा, '8 नवंबर को पिछले साल मोदी जी टीवी पर आए। कहते हैं भाइयों और बहनों, आप ये 500 का जो नोट है हजार रुपये का नोट है, मैं आपका प्रधानमंत्री हूं यह मुझे अच्छा नहीं लगा। ये मुझे अच्छा नहीं लगा, अब मैं इसको 12 बजे रात को रद्द करने वाला हूं...हाहाहा।'

देखिये वीडियो

अक्टूबर 2015 में बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने पीएम मोदी के भाषण की नकल उतारते हुए डबस्मैश पर एक विडियो शूट किया था। पीएम मोदी के चुनावी वादों पर तंज कसते इस विडियो को लालू ने अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर किया था। कई चुनावी रैलियों में लालू यादव ने मोदी के किसी भाषण की शुरुआत में कहे जाने वाले संबोधन 'भाइयों-बहनों' की नकल उतारते हुए तंज कसा था।

देखिए वीडियो

कैशकांड और जीएसटी पर हमला

गांधीनगर रैली के दौरान राहुल गांधी ने नोटबंदी के अलावा गुजरात में कथित कैशकांड और जीएसटी को लेकर भी मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। राहुल ने कहा कि मोदी गुजरात की आवाज को दबाना चाहते हैं, उसे खरीदना चाहते हैं लेकिन यह आवाज न दब सकती है न इसे खरीदा जा सकता है। उन्होंने बढ़ती बेरोजगारी के लिए जहां केंद्र व राज्य की बीजेपी सरकार पर हमला बोला, वहीं प्रधानमंत्री पर नोटबंदी के जरिए देश की अर्थव्यवस्था को चौपट करने का आरोप लगाया। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि गुजरात में पहली बार समाज के हर तबके में आंदोलन चल रहा है। उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए है क्योंकि कुछ मुट्ठी भर लोग सरकार चला रहे हैं। राहुल ने कहा कि गुजरात में पिछले 22 साल से जनता की सरकार नहीं चल रही है बल्कि 5 से 10 उद्योगपतियों की सरकार है।

गुजरात के कैशकांड पर राहुल गांधी ने निशाना साधते हुए कहा कि पैसे से गुजरात की आवाज को नहीं खरीदा जा सकता। गांधी ने कहा 'गुजरात में करोड़ों युवा हैं जो शांत नहीं हो सकते हैं....हार्दिक है, जिग्नेश है...वे भी शांत नहीं हो सकते हैं...उनके भी दिल में एक आवाज है...यह आवाज हर गुजराती के दिल में है...यह जो गुजराती आवाज है यह कोई मामूली आवाज नहीं है...इस आवाज को न दबाया जा सकता है..न खरीदा जा सकता है...एक करोड़, 10 करोड़, 50 करोड़ लगाइए...1000 करोड़ लगा दें...पूरा बजट का पैसा लगा दो...दुनिया का सारा पैसा लगा दो लेकिन गुजरात की आवाज को दबा नहीं सकते...खरीद नहीं सकते।'

'जीएसटी नहीं गब्बर सिंह टैक्स'

राहुल ने इस दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह के मामले को लेकर हमला बोला। राहुल ने कहा कि न खाऊंगा न खाने दूंगा कहने वाले पीएम मोदी आज इस मामले पर चुप्पी साधे हुए हैं। जय शाह के मामले पर वह कुछ नहीं बोलेंगे। इसके साथ ही राहुल ने नोटबंदी पर करारा हमला करते हुए कहा कि नोटबंदी के 5-6 दिन बाद मोदी को अपनी गलती का पता चल गया था। राहुल ने यह भी कहा कि पीएम मोदी ने रोते हुए कहा था कि मुझे चौराहे पर फांसाी लगा देना। राहुल ने जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स बताते हुए कहा कि इसे देश की जनता पर जबरन थोपा गया है। राहुल ने गांधीनगर रैली में कहा कि मोदी जी ने देश की अर्थव्यवस्था पर कुल्हाड़ी चलाई है, उन्होंने हिंदुस्तान का पूरा पैसा जब्त किया है।


कमेंट करें