नेशनल

GDP पर राहुल का मोदी-जेटली पर वार,कहा- इस जोड़ी ने देश को दी 'Gross Divisive Politics'

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
254
| जनवरी 6 , 2018 , 12:10 IST

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पीएम मोदी और सरकार की नीतियों की आलोचना का कोई मौका इन दिनों नहीं छोड़ रहे हैं।राहुल ने शनिवार को ट्विटर पर एक ट्वीट कर के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली को निशाने पर लिया। राहुल ने ट्वीट में लिखा कि वित्त मंत्री जेटली की प्रतिभा और मिस्टर मोदी के ग्रॉस डिवाइसिव पॉलिटिक्स (जीडीपी) ने भारत को ये दिया। राहुल ने ट्विट कर आर्थिक डाटा साझा किया।

उन्होंने कहा, 'देश में नया निवेश पिछले 13 सालों से सबसे निचले स्तर पर है। बैंक क्रेडिट ग्रोथ 63 साल के निचले स्तर पर चली गई है। इसके अलावा रोजगार निर्माण पिछले आठ सालों के सबसे निम्नतम स्तर पर है तो कृषि सेक्टर 1.7 फीसदी तक नीचे गिर गई है।'

उन्होंने कहा कि राजकोषीय घाटा 8 सालों के सबसे निचले स्तर पर है।

हाल ही में कांग्रेस की कमान संभालने वाले राहुल ने शुक्रवार को लोकपाल को लेकर मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया था। उन्होंने कहा, बीत गए चार साल, नहीं आया लोकपाल, जनता पूछे एक सवाल, कब तक बजाओगे 'झूठी ताल'?

 

जीडीपी 6.5% रहने का अनुमान-

बता दें कि देश की जीडीपी की वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष (2017-18) में 6.5 प्रतिशत के चार साल के निचले स्तर पर रहने का अनुमान है। जीएसटी लागू होने की वजह से विनिर्माण क्षेत्र पर पड़े असर और कृषि उत्पादन कमजोर रहने से जीडीपी की वृद्धि दर चार साल के निचले स्तर पर रह सकती है। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने राष्ट्रीय लेखा खातों का अग्रिम अनुमान जारी करते हुए यह अनुमान लगाया है।

पिछले वित्त वर्ष 2016-17 में जीडीपी की वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत रही थी, जबकि इससे पिछले साल यह 8 प्रतिशत के ऊंचे स्तर पर थी। 2014-15 में यह 7.5 प्रतिशत थी। नरेंद्र मोदी सरकार ने मई, 2014 में कार्यभार संभाला था।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें