राजनीति

राहुल के PM मोदी से 3 सवाल, बोले- हरियाणा में कब थमेगी रेप की वारदात? जरा बताएं

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1064
| जनवरी 19 , 2018 , 19:57 IST

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों लगातार नए-नए ट्वीट हमले कर पीएम मोदी को घेरने की कोशिश कर रहे हैं। शुक्रवार को राहुल गांधी ने पीएम मोदी के मन की बात पर हमला करते हुए ट्वीट किया है कि पीएम मोदी को मन की बात में डोकलाम में चीन के धोखे, हरियाणा में हो रहे रेप को कैसे रोका जाए के साथ-साथ कैसे देश में युवाओं को वो रोजगार मुहैया कराएंगे इस पर भी बात करनी चाहिए।

बता दें कि राहुल गांधी ने पीएम मोदी को मन की बात में जवाब देने के लिए ये तीन सवाल पूछे हैं। गौरतलब है कि पीएम मोदी 28 जनवरी को आगामी मन की बात में देश को संबोधित करेंगे। जिसके लिए पीएम मोदी ने देशवासियों से आइडिया और सुझाव आमंत्रित किए हैं।

पीएम मोदी से राहुल के ये हैं तीन सवाल

1. कैसे हमारे युवाओं को नौकरी मिलेगी

2. डोकलाम से चीन को कैसे हटाएंगे

3. हरियाणा में रेप की घटना कैसे रुकेगी 

कांग्रेस का दावा- डोकलाम पर चीन का कब्जा

पिछले दिनों चीन के साथ डोकलाम विवाद पर मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने मोदी सरकार से जवाब मांगा था। कांग्रेस ने सरकार से पूछा था कि इस गंभीर मसले पर सरकार की ओर से क्या कदम उठाए जा रहे हैं? कांग्रेस की ओर से की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में सैटेलाइट से ली गई तस्वीरों पर दावा किया गया था कि चीन ने सीमा पर बंकरों का निर्माण किया है।

चीन ने डोकलाम में बनाई 2 मंजिला ईमारत

कांग्रेस का कहना है कि चीनी सेना ने करीब 2 मंजिली इमारत वहां बना ली है और सरकार इस पर क्या कार्रवाई कर रही है। कांग्रेस की ओर से कहा गया कि ये चिंता का विषय है, क्योंकि लाइन ऑफ एक्चुअल में चीन की गतिविधियां बढ़ गई हैं।

बंकर और हैलीपैड भी बनाए हैं चीन ने

ऑनलाइन मीडिया रिपोर्ट्स मुताबिक सैटेलाइट से और भी तस्वीरें ली गई हैं, जिसमें दिख रहा है कि चीन उत्तरी डोकलाम में घुसकर बंकरों के अलावा सात नए हैलीपेड भी बनाए हैं। इनके अनुसार, चीनी सैनिक जहां पर तैनात हैं, उससे कुछ दूरी पर सड़क निर्माण की बड़ी मात्रा में सामग्री भी पड़ी हुई है।

चीन ने डोकलाम में लड़ाकू वाहनों की तैनाती की है

गूगल अर्थ की मदद से निकाली गई तस्वीरों के आधार पर इलाके में जेडबीएल-09 आईएफवी या इंफैंट्री लड़ाकू वाहनों की तैनाती की आशंका है। छोटे टैंकों की पार्किंग भी नजर आ रही है। चीनी सेना के 100 से ज्यादा सैनिकों के भी वहां होने की बात कही जा रही है। यहां तक कहा जा रहा है कि कई टुकड़ी टेंट के अंदर हैं, जिनकी मौजूदगी का पता सैटेलाइट तस्वीरों से नहीं चल पा रहा है।


कमेंट करें