नेशनल

कश्मीर में बातचीत शुरू करेगी मोदी सरकार, पूर्व IB डायरेक्टर को बनाया प्रतिनिधि

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
569
| अक्टूबर 23 , 2017 , 17:00 IST

राजनाथ सिंह ने सोमवार को कहा कि मोदी सरकार कश्मीर में बातचीत के जरिए समस्या का हल ढूंढेगी। सरकार ने पूर्व IB डायरेक्टर को रिप्रेजेंटेटिव बनाया है। 15 अगस्त को नरेंद्र मोदी ने लाल किले से दी स्पीच में था कश्मीर समस्या का समाधान न गाली से और न गोली से होगा। कश्मीर समस्या का समाधान लोगों को गले लगाकर होगा।

दिनेश्वर शर्मा को काम करने की पूरी आजादी होगी

क्या बातचीत में अलगाववादी शामिल होंगे, इस पर राजनाथ ने कहा- "इंटेलिजेंस ब्यूरो के पूर्व डायरेक्टर दिनेश्वर शर्मा को यह पूरी आजादी होगी। वे जिनसे बात करना चाहें, कर सकते हैं। उन पर कोई प्रतिबंध नहीं है। यह नहीं कहा जा सकता कि उन्हें कब तक रिपोर्ट देनी होगी। बातचीत में समय लग सकता है।

मोदी सरकार के साढ़े तीन साल बीतने के बाद स्पेशल रिप्रेजेंटेटिव का अप्वाइंटमेंट क्यों हुआ, इस पर राजनाथ ने कहा- "नरेंद्र मोदी ने सभी राजनीतिक दलों से बातचीत की। उन्होंने राय जानी कि वहां के लिए क्या करना चाहिए। इसमें बातचीत के सुझाव भी आए। इसके बाद प्रधानमंत्रीजी ने 15 अगस्त के अपने भाषण में भी संकेत दिए थे कि कश्मीर समस्या का समाधान न गोली से निकलेगा, न गाली से निकलेगा। समाधान बातचीत से निकलेगा।

जम्मू-कश्मीर में क्या नए गवर्नर का अप्वाइंटमेंट होगा, इस पर गृह मंत्री ने कहा- अभी वहां गवर्नर मौजूद हैं। आगे कुछ होगा तो समय-समय पर आपको जानकारी मिलती रहेगी।

कौन हैं दिनेश्वर शर्मा

शर्मा 1978 बैच के आईपीएस हैं। वे इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) चीफ रह चुके हैं। फिलहाल, मणिपुर में अलगाववादी गुटों से बातचीत कर रहे हैं। इस बातचीत का एक दौर कल यानी मंगलवार को भी होना है।


कमेंट करें