राजनीति

राज्यसभा चुनावः यूपी में बीजेपी को 9 सीटें, सपा को एक, जानें कहां से कौन जीता

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1548
| मार्च 24 , 2018 , 08:13 IST

16 राज्यों में राज्यसभा की 58 सीटों पर 23 मार्च, शुक्रवार को वोट डाले गए। उत्तर प्रदेश की 10 राज्यसभा सीटों के लिए हुए मतदान के नतीजे आ गए हैं। बीजेपी ने नौ सीटों पर जीत हासिल की है और एक सीट सपा की झोली में गई है। एक सीट पर बसपा के भीमराव आंबेडकर और बीजेपी के अनिल अग्रवाल के बीच कड़ा मुकाबला हुआ। बीएसपी विधायक अनिल सिंह ने मायावती को झटका देते हुए बीजेपी के पक्ष में मतदान किया। जिससे यह सीट बसपा के हाथ से निकल गई और बीजेपी के खाते में चली गई।

राज्यसभा की 58 सीटों पर हुए चुनाव ने उच्च सदन राज्यसभा की तस्वीर को बहुत हद तक बदल दिया है। मतदाताओं की संख्या के आधार पर केन्द्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली समेत भाजपा के डॉ. अशोक बाजपेयी,विजयपाल सिंह तोमर, सकलदीप राजभर, कांता कर्दम, डॉ. अनिल जैन, जीवीएल नरसिम्हा राव और हरनाथ सिंह यादव तथा समाजवादी पार्टी (सपा) की जया बच्चन ने जीत हासिल की। दसवीं सीट पर बसपा प्रत्याशी भीमराव अम्बेडकर और भाजपा के नौवें उम्मीदवार अनिल अग्रवाल के बीच कड़ी टक्कर हुई। इसमें अनिल अग्रवाल को जीत मिली।


33 सीटों पर निर्विरोध चुने गए-

अगर प्रदेश के मुताबिक सीटों की बात की जाए तो उत्तर प्रदेश में 10, बिहार और महाराष्ट्र में 6-6, मध्य प्रदेश और पश्चिम बंगाल में 5-5, गुजरात और कर्नाटक की 4-4, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, ओडिशा और राजस्थान में 3-3, झारखंड की 2, छत्तीसगढ़, हिमाचल, हरियाणा और उत्तराखंड की 1-1 सीट पर चुनाव 23 मार्च को चुनाव हुआ था। 33 सीटों पर सदस्य निर्विरोध चुने जा चुके हैं। इनका निर्वाचन 15 मार्च को ही हो चुका था।

58 में बीजेपी को 28 सीटों शानदार जीत हासिल हुई है। जबकि कांग्रेस को 10 सीटों से संतोष करना पड़ा है। हालांकि शुक्रवार को केवल 7 राज्यों की 26 राज्यसभा सीटों पर ही हुए चुनाव हुए थे, जबकि शेष बचे 10 राज्यों में 33 उम्मीदवारों को पहले ही निर्विरोध चुन लिया गया था। इन 17 राज्यों में 58 राज्यसभा सांसदों का कार्यकाल अप्रैल-मई में खत्म हो रहा है। जिन सात राज्यों की 26 राज्यसभा सीटों पर चुनाव हुए वहां भाजपा को 12 सीटों पर जीत मिली। यूपी में उसके सभी 9 उम्मीदवार जीत गए। अब उच्च सदन में बीजेपी के 73 सांसद हैं और वह सबसे बड़ी पार्टी बन गई है।

यूपी की एक सीट पर रहा महामुकाबला-

यूपी में राज्यसभा की 10 सीटों के लिए चुनाव हुए। जिसमें बीजेपी की 8 सीट तो पहले से तय थी। वहीं सपा की 9वीं सीट भी पक्की थी।10वीं सीट के लिए ही पूरा महाभारत हुआ था। यहां बीजेपी के अनिल अग्रवाल और बसपा के भीमराव अंबेडकर में खिताबी मुकाबला था। 10वीं सीट के लिए बसपा की ओर से भीमराव अंबेडकर को सपा का समर्थन प्राप्त था। अनिल अग्रवाल को दूसरी वरियता के 300 से अधिक वोट मिले। जिससे उनकी जीत आसान हो गई। 10वीं सीट पर भाजपा के अनिल अग्रवाल ने बसपा के भीमराव अंबेडकर को हराया। उत्तर प्रदेश की 10 राज्यसभा सीटों पर हुए चुनाव के परिणामों के 9 सीटें बीजेपी की झोली में आई। एक सीट पर समाजवादी पार्टी उम्मीदवार जया बच्चन ने भी जीत दर्ज कर ली है। BJP के डॉ. अनिल जैन, अरुण जेतली, जी.वी.एल. नरसिम्हाराव, सकलदीप राजभर, विजयपाल सिंह तोमर, हरनाथ सिंह यादव, अशोक वाजपेयी, कांता कर्दम, अनिल अग्रवाल जीते।

कौन कहां से जीता-

छत्तीसगढ़ः

भाजपा की उम्मीदवार सरोज पाण्डेय ने सीधे मुकाबले में कांग्रेस के लेखराम साहू को 14 मतों से शिकस्त दी।

झारखंडः

झारखंड से बीजेपी के उम्मीदवार समीर उरांव और कांग्रेस के उम्मीदवार धीरज साहू निर्वाचित हुए।

पश्चिम बंगाल:

कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी को कुल 47 मत मिले जबकि उनकी पार्टी के केवल 32 विधायक हैं। तृणमूल कांग्रेस के सुभाशीष चक्रवर्ती को सबसे अधिक 54 मत मिले। तृणमूल कांग्रेस के नदीमुल हक और अबीर विश्वास को 52 मत मिले।तृणमूल कांग्रेस के डा. शांतनु सेन को 52 मत मिले।

आंध्र प्रदेशः

टीडीपी नेता सी.एम. रमेश, सर्वसम्मति से राज्यसभा के लिए निर्वाचित।

हरियाणा

हरियाणा में राज्यसभा की एकमात्र सीट के लिए बीजेपी उम्मीदवार रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल डीपी वत्स (67) निर्विरोध निर्वाचित हुए।

मध्य प्रदेश

केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान सहित बीजेपी के 4 उम्मीदवार और कांग्रेस के राजमणि पटेल राज्यसभा के लिए मध्य प्रदेश से निर्विरोध निर्वाचित घोषित हुए। मध्य प्रदेश से निर्विरोध निर्वाचित होने वालों में केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान, केन्द्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत, मीसाबंदी संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष कैलाश सोनी, वरिष्ठ बीजेपी नेता अजय प्रताप सिंह और कांग्रेस के राजमणि पटेल शामिल हैं।

ओडिशा

ओडिशा से राज्यसभा चुनावों के लिए बीजू जनता दल के 3 उम्मीदवारों प्रशांत नंदा, सौम्य रंजन पटनायक और अच्युत सामंत को राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया।

गुजरात

गुजरात से राज्यसभा के लिए 4 उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। इनमें 2 बीजेपी और 2 कांग्रेस के हैं। केंद्रीय मंत्रियों पुरुषोत्तम रूपाला और मनसुख मांडविया( बीजेपी) और नारण राठवा और अमी याज्ञनिक (कांग्रेस) को चुनाव अधिकारियों ने निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया।

उत्तराखंड

उत्तराखंड से राज्यसभा की एकमात्र सीट के लिए बीजेपी प्रत्याशी अनिल बलूनी को निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया।

राजस्थान

राजस्थान से राज्यसभा की 3 सीटों पर बीजेपी के डॉ. किरोड़ी लाल मीणा, भूपेन्द्र यादव और मदन लाल सैनी निर्विरोध चुन लिये गये।

महाराष्ट्र

राज्यसभा चुनावों में महाराष्ट्र से केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर सहित 6 उम्मीदवारों के निर्विरोध चुने जाने का रास्ता साफ हो गया। महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष विजया राहटकर की ओर से अपना नामांकन पत्र वापस लेने के बाद बचे 6 उम्मीदवार ही मैदान थे। बीजेपी उम्मीदवारों में प्रकाश जावड़ेकर, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे और पार्टी की केरल इकाई के पूर्व अध्यक्ष वी मुरलीधरन और कांग्रेस ने वरिष्ठ पत्रकार कुमार केतकर, शिवसेना ने अनिल देसाई और एनसीपी ने वंदना चव्हाण को निर्वाचित हुए।

केरल

वीरेंद्र कुमार (एलडीएफ) राज्यसभा के सांसद निर्वाचित हुए।

तेलंगाना

तेलंगाना राष्ट्र समिति के बी. प्रकाश, जे. संतोष कुमार और एबी. लिंगैया यादव चुनाव जीते।

कर्नाटक

कर्नाटक की 4 राज्यसभा सीट के लिए 5 प्रत्याशी मैदान में थे। प्रदेश की 4 राज्यसभा सीटों के लिए काटे की टक्कर में 1 सीट पर बीजेपी जबकि 3 सीट पर कांग्रेस ने जीत हासिल की है। कांग्रेस ने 3, बीजेपी और जेडीएस ने 1-1 उम्मीदवार को मैदान में उतारा था। जिसमें बीजेपी के राजीव चंद्रशेखर जबकि कांग्रेस के डॉ एल हनुमनथैया, डॉ सईद नसीर हुसैन और जी सी चंद्रशेखर विजयी हुए हैं।

हिमाचल प्रदेश

भाजपा के जेपी नड्डा बिना किसी विरोध के राज्‍यसभा पहुंच गए हैं।


कमेंट करें