राजनीति

फिट बता AIIMS ने लालू को किया डिस्चार्ज, लालू ने कहा- जान पर खतरा

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1573
| अप्रैल 30 , 2018 , 14:57 IST

चारा घोटाले में सजा पाए और इलाज के लिए दिल्ली के एम्स में भर्ती आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।सोमवार को कांग्रेस चीफ राहुल गांधी से यहां मुलाकात के कुछ देर बाद ही लालू के एम्स से डिस्चार्ज होने की खबर आई। हालांकि लालू ने एम्स प्रशासन को चिट्ठी लिखकर उन्हें डिस्चार्ज नहीं करने का आग्रह किया है। लालू को एम्स से डिस्चार्ज करने के फैसले की बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने आलोचना की है। उन्होंने कहा कि यह आनन-फानन में किया गया फैसला है जिससे लालू यादव की जान पर बन सकती है। उधर, एम्स ने साफ किया है कि लालू यादव के स्वास्थ्य में सुधार हुआ है और उन्हें रांची मेडिकल कॉलेज रिफर किया जा रहा है।

लालू ने पत्र में लिखा, मत भेजो रांची

लालू ने एम्स को लिखे अपने पत्र में कहा है, 'वह रांची अस्पताल में नहीं चाहते हैं क्योंकि वहां मेरा उचित इलाज नहीं हो पाएगा।' लालू ने अपने पत्र में लिखा है, 'मुझे बताया गया है कि मुझे अस्पताल से छुट्टी देने की तैयारी चल रही है। मुझे एम्स में अच्छे इलाज के लिए भेजा गया था। अभी मेरी तबीयत ठीक नहीं हुई है। मैं आपको बताना चाहता हूं कि मैं हृदयरोग, किडनी इंफेक्शन, शुगर एवं कई अन्य प्रकार के बीमारियों से पीड़ित हूं। मुझे रांची नहीं भेजा जाए।' उधर, सूत्रों के मुताबिक लालू यादव को आज ही रांची भेजा जा रहा है।

Letter

लालू ने इन बीमारियों का दिया हवाला

लालू ने एम्स प्रशासन को लिखी चिट्ठी में कई बीमारियों का हवाला दिया है। उन्होंने लिखा है कि उन्हें हृदयरोग, किडनी इंफेक्शन, रक्तचाप, शुगर, कमर दर्द, बार-बार चक्कर आना जैसी बीमारियां हैं। उन्होंने पत्र में लिखा है कि चक्कर आने के कारण कई बार वह बाथरूम में भी गिरे हैं। उन्होंने साथ ही लिखा है कि अगर उन्हें एम्स से रांची मेडिकल कॉलेज भेजा जाता है और अगर इससे मेरे जीवन पर किसी भी प्रकार का कोई खतरा उत्पन्न होता है तो इसकी पूरी जवाबदेही आप सबों पर होगी।

तेजस्वी, लालू के आरोपों पर एम्स का जवाब

एम्स ने साफ किया है कि लालू यादव के स्वास्थ्य में उल्लेखनीय सुधार हुआ है। उन्हें खराब स्वास्थ्य के कारण एम्स रिफर किया गया था। उनकी सेहत में अब सुधार है और उन्हें वापस रांची मेडिकल कॉलेज रिफर किया जा रहा है।

एम्स में आज लालू से मिले थे राहुल गांधी

गौरतलब है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज लालू से एम्स में मुलाकात किया था और उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली थी। दोनों नेताओं की इस मुलाकात को काफी अहम माना जा रहा है। 2019 की तैयारी में लगे राहुल को आरजेडी का लगातार समर्थन मिल रहा है।

तेजस्वी ने उठाए फैसले पर सवाल

तेजस्वी ने कहा कि पता नहीं किन कारणों से यह फैसला किया गया है। उन्होंने कहा, 'समझ नहीं आ रहा है कि यह फैसला क्यों किया गया है। कोई भी व्यक्ति बीमार पड़ता है तो उसे बड़े अस्पताल में भेजा जाता है। लालू यादव के स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं है। एम्स के लोग ही बता पाएंगे कि ऐसा क्यों किया गया है। लालू यादव का किडनी 60 फीसदी डैमेज है। इस उम्र में उसकी मॉनिटरिंग की जरूरत पड़ती है। इस फैसले से सवाल खड़े होते हैं।' उन्होंने कहा कि जानकारी मिली है कि लालू को आज ही रांची भेजा जा रहा है।

गौरतलब है कि चारा घोटाले के कई मामलों में सजा काट रहे आरजेडी अध्यक्ष बीमारी के कारण दिल्ली के एम्स में इलाज करा रहे थे। बीमार होने से पहले वह रांची की जेल में बंद थे। बीमार होने के बाद उन्हें रांची के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था, उसके बाद उन्हें एम्स रिफर कर दिया गया था।

लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप की 12 मई को है शादी

लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव की 12 मई में शादी होनी है। इस शादी में लालू यादव आ सकेंगे या नहीं इसपर अब भी संशय बरकरार है। लालू ने खुद ही परोल के लिए इनकार किया है। लालू प्रॉविजनल बेल का इंतजार कर रहे हैं। बता दें कि लालू के बेल पर रांची हाइकोर्ट में चार मई को सुनवाई होनी है और कोर्ट ने लालू की बेल पर सुनवाई करने के लिए लोअर कोर्ट से संबंधित दस्तावेज की मांग की है। लालू के वकील ने बताया कि खुद लालू ने अपने स्वास्थ्य को शादी से ज्यादा महत्वपूर्ण बताया है। प्रॉविजनल बेल की अर्जी भी अगर स्वीकार हो जाती है तो लालू को महीने की बेल मिल सकती है।

 


कमेंट करें