नेशनल

मनी लांड्रिंग केस: दूसरे दिन वाड्रा से ED ने 2 घंटे की पूछताछ

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1675
| फरवरी 7 , 2019 , 15:31 IST

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बहनोई रॉबर्ट वाड्रा मनी लांड्रिंग के एक मामले में ED के समक्ष एक बार फिर पेश हुए है। यहां उनसे पूछताछ की गई। वहीं इसको लेकर उम्मीद जताई जा रही थी कि कई बड़े खुलासे हो सकते हैं। बता दें कि कल उनसे तकरीबन 6 घंटे तक पूछताछ की गई थी। रॉबर्ट वाड्रा कल ED के दफ्तर अपनी पत्नी प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ पहुंचे थे। प्रवर्तन निदेशालय उनसे दोबारा पूछताछ कर सकता है और इसके लिए उन्हे दोबारा समन भी जारी किया जा सकता है। वहीं पूछताछ के बाद वाड्रा के वकील सुमन ज्योति खेतान ने कहा कि उनके मुवक्किल ने सभी सवालों के जवाब दिए और अगर दोबारा बुलाया गया तो फिर पेश होंगे।

रॉबर्ट वाड्रा के वकील ने कहा कि उनके मुवक्कील निर्दोष हैं और उन्हें राजनीतिक कारणों से परेशान किया जा रहा है। उनके वकील ने तो यहां तक दावा किया कि वाड्रा को कोई समन नहीं मिला था और उन्होंने खुद ईडी को कहा था कि वह पूछताछ के लिए तारीख तय करे। वाड्रा के वकील ने कहा कि वाड्रा को जब समन जारी किया गया, उस वक्त वह अपनी बेटी की सर्जरी के लिए अमेरिका में थे। खेतान ने कहा कि वाड्रा ने पूछताछ के दौरान सारे सवालों के जवाब दिए और अगर ईडी ने फिर से बुलाया तो वह फिर हाजिर होंगे। हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि वाड्रा से क्या-क्या सवाल पूछे गए थे।

रॉबर्ट वाड्रा से ईडी के 3 सीनियर अधिकारियों ने पूछताछ की, जिनमें डिप्टी डायरेक्टर और असिस्टेंट डायरेक्टर लेवल के अधिकारी शामिल थे। इन सवालों के अलावा रॉबर्ट वाड्रा से लंदन में सभी ट्रांजैक्शन, खरीदारी के बारे में सवाल पूछे गए। सूत्रों की मानें तो ईडी रॉबर्ट वाड्रा के जवाबों से संतुष्ट नहीं है, इसलिए उन्हें दोबारा गुरुवार को पेशी के लिए बुलाया गया।

बता दें कि रॉबर्ट वाड्रा ने कुछ दिनों पहले ही गिरफ्तारी से बचने के लिए कोर्ट में अर्जी लगाई थी जिसके बाद दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने उनकी गिरफ्तारी पर 16 फरवरी तक रोक लगा दी और उन्हें जांच में सहयोग करने को कहा था।

आपको बता दें कि ये मामला 19 लाख पाउंड की अघोषित संपत्ति से जुड़ा है, ये संपत्ति विदेश में है। ED ने भगोड़े हथियार सौदागर संजय भंडारी के खिलाफ काले धन से संबंधित नए कानून के तहत इनकम टैक्स द्वारा एक अन्य मामले की जांच के दौरान वाड्रा के करीबी मनोज अरोड़ा का नाम सामने आने के बाद अरोड़ा के खिलाफ भी धनशोधन मामला दर्ज किया था।


कमेंट करें