नेशनल

राम मंदिर: जरुरत पड़ी तो फिर होगा 1992 जैसा आंदोलन- भैयाजी जोशी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1523
| नवंबर 2 , 2018 , 14:53 IST

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाहक भैयाजी जोशी ने शुक्रवार को प्रेसवार्ता कर राम मंदिर को लेकर बड़ा बयान दिया है। भैयाजी जोशी ने कहा है कि इस मामले पर उन्हें जल्द निर्णय की उम्मीद थी लेकिन शीर्ष अदालत ने इसे टालकर हमारे इंतजार को और लंबा कर दिया है। संघ ने राम मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश की मांग फिर दोहराई।

फिर 1992 जैसा आंदोलन

सरकार्यवाहक ने कहा कि अगर जरुरत पड़ी तो फिर से 1992 की तरह राम मंदिर के लिए आंदोलन किया जाएगा। ।भैय्या जी ने कहा, राम सबके हृदय में रहते हैं पर वो प्रकट होते हैं मंदिरों के द्वारा। हम चाहते हैं कि राम मंदिर बने। काम में कुछ बाधाएं अवश्य हैं और हम अपेक्षा कर रहे हैं कि न्यायालय हिंदू भावनाओं को समझ के निर्णय देगा। उन्होंने कहा, समाज में सबकी इ्च्छा यही है कि राम मंदिर बने।

हिंदू अपमानित महसूस कर रहा है

राम मंदिर की सुनवाई टालने के मामले पर जोशी ने कहा कि यह कोर्ट का अधिकार है। उनके इस अधिकार हम टिप्पणी नहीं करेंगे। लेकिन उनकी प्राथमिकताएं अलग होने वाले बयान पर हम सबको दुख है। करोड़ों हिंदू समाज की भावनाओं की श्रद्धा से जुड़े इस मुद्दे पर जिस तरह से जवाब दिया इससे हिंदू समाज अपमानित महसूस कर रहा है। करोड़ों हिंदुओं की आस्था अदालत की प्रथामिकता में नहीं है, यह आश्चर्यजनक है।

अध्यादेश पर विचार करे सरकार

सरकार्यवाहक भैयाजी जोशी ने आगे कहा कि अगर राम मंदिर पर कोई विकल्प नहीं बचता है तो सरकार को अध्यादेश पर विचार करना चाहिए। सरकार अगर अध्यादेश लाती है तब हम प्रतिक्रिया देंगे।

 


कमेंट करें