नेशनल

पहली बार संसद में बोलने वाले थे सचिन लेकिन नेताओं ने ऐसा नहीं होने दिया!

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
330
| दिसंबर 21 , 2017 , 19:32 IST

क्रिकेट के 'भगवान' कहे जाने वाले पूर्व क्रिकेटर और भारत रत्न से सम्मानित राज्यसभा सांसद सचिन तेंदुलकर भले ही क्रिकेट के मैदान पर चौकों, छक्कों से गेंदबाजों की हवा निकाल देते हों पर गुरुवार को जब राज्यसभा पहुंचे,तब माहौल कुछ और ही था।

इस दौरान वह पहली बार राज्यसभा में बोलने जा रहे थे, लेकिन विपक्ष के हंगामे के कारण वह बोल नहीं पाए और सदन को स्थगित करना पड़ा। साल 2012 में यूपीए सरकार द्वारा मनोनीत होने के बाद सचिन का राज्यसभा में पहला भाषण होने वाला था, राज्यसभा में सचिन 'राइट टू प्ले' के मुद्दे पर चर्चा करने वाले थे।

विपक्ष के हंगामे के बीच उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने लगातार विपक्ष से शांत होने की अपील की और कहा, जो व्यक्ति बोल रहा है वह भारत रत्न है, इसे पूरा देश देख रहा है, प्लीज़ शांत हो जाइए।

लेकिन इसका किसी पर कोई असर नही हुआ । गौरतलब है कि 348 दिनों की कार्यवाही में वह 23 दिनों तक ही सदन में रहे हैं। उनके और बॉलिवुड ऐक्ट्रेस रेखा की गैरमौजूदगी पर लगातार सवाल उठते रहे। बता दें कि रेखा की सदन में मौजूदगी सचिन से भी कम है 18 दिन है।


कमेंट करें