नेशनल

क्या साहिबाबाद में यूपी पुलिस ने किया फर्जी एनकाउंटर? देखें वायरल तस्वीरें

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1155
| मार्च 8 , 2018 , 12:28 IST

गाजियाबाद से सटे साहिबाबाद थाने में पिछले साल सितंबर में हुए एक एनकाउंटर की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायर हो रही है। कहा जा रहा है कि यह एक फर्जी एनकाउंटर है।

क्या है पूरा मामला:

न्यू करहेड़ा कॉलोनी निवासी दूध कारोबारी ओमपाल का बेटा साहिल (11) राजेंद्र नगर सेक्टर-3 स्थित होली एंजल पब्लिक स्कूल छठी क्लास में पढ़ता है। 7 सितंबर की शाम को साहिल का अपहरण कर लिया गया था। बेते साहिल के अपहरण के बाद परिजनों ने साहिबाबाद थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। 15 सितंबर 2017 को पुलिस को सूचना मिली कि साहिल का अपहरण करने वाले बदमाश बाइक से साहिबाबाद की ओर आ रहे है।

28833026_1178064905681578_191052726_n

इस पर पुलिस ने घेराबंदी कर इन्हें रोकने की कोशिश की तो बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी थी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में चांदीपुर निवासी सुनील उर्फ मोनू के दाए पैर में गोली लगी थी। वहीं, बदमाशों की गोली से साहिबाबाद थाने के एएसआई जितेंद्र कुमार घायल हो गए थे। उनके पैर में गोली ली थी। फायरिंग का फायदा उठा कर सोनू फरार हो गया था। जबकि सुनील के साथी रॉबिन को पुलिस ने धर दबोचा था।

एसपी सिटी आकाश तोमर ने बताया कि रॉबिन और सुनील रिश्तेदार हैं। घटना के दौरान दोनों ने एक जैसे और लगभग एक रंग के कपड़े पहने हुए थे। दोनों की कद काठी भी लगभग एक जैसे ही। रॉबिन की फोटो ही वायरल हो रही है। रॉबिन को गोली नहीं मारी गई थी। उसे दबोचने के बाद थाने ले जाने के लिए हथकड़ी पहनाई गई थी।

28722371_1178065022348233_170456493_n

वायरल हो रही फोटो को लेकर एसएसपी हरिनारायण सिंह ने कहा कि जिन फोटो को फर्जी एनकाउंटर बताकर वायरल किया गया है वह फर्जी है। पुलिस का एनकाउंटर पूरी तरह सही था। वायरल फोटो की जांच की जाएगी।




कमेंट करें