बिज़नेस

रविवार से बदल गए ये 6 नियम, पड़ेगा आपकी जेब पर असर

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
295
| अक्टूबर 1 , 2017 , 17:32 IST

रविवार से आम नागरिकों को कई बदलाव देखने को मिलेंगे। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, जीएसटी, टेलिकॉम सेक्‍टर और टोल प्‍लाजा से जुड़े नियमों में रविवार को बदलाव किया गया है।

आइए एक नजर डालते हैं नए नियमों पर, जिसका सीधा असर आपकी जेब पर पड़ेगा:

- रविवार (1 अक्टूबर) से कोई भी दुकानदार पुराने एमआरपी पर सामान नहीं बेच सकेगा। रविवार से सभी को नई एमआरपी के साथ सामान बेचना होगा। ऐसा ना करने पर दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। दरअसल, केंद्र सरकार ने 1 जुलाई से जीएसटी लागू होने के बाद कारोबारियों को 30 सितंबर तक पुराने सामान पर नई एमआरपी का स्टिकर लगाकर बेचने की सुविधा दी थी। लेकिन रविवार (1 अक्टूबर) से नई एमआरपी का स्‍टीकर लगाकर सामान बेचने वालों पर सरकार कार्रवाई कर सकती है।

- एसबीआई ने मेट्रो और शहरी भाग में बचत खातों पर मिनिमम अकाउंट बैलेंस के नियमों में बदलाव किया है। रविवार को मिनिमम अकाउंट बैलेंस लिमिट 5000 रुपए से घटकर 3000 कर दी गयी है। 

Sbi-kNOF--621x414@LiveMint

- मिनिमम बैलेंस चार्ज में भी 20% से 50% तक कटौती की गई है।

- खाता बंद करने के लिए कोई चार्ज नहीं लगेगा। ये सुविधा खाता खोलने के 14 दिन तक और 1 साल बाद खाता बंद करने पर ही मिलेगी। 14 दिन के बाद और 1 साल से पहले बंद करने पर 500 रुपये प्लस जीएसटी लगेगा।

-नाबालिगों, पेंशनर्स और सब्सिडी के लिए खोले गए अकाउंट्स पर मिनिमम बैलेंस का चार्ज नहीं लिया जाएगा।

-रविवार से SBI मर्ज हुए बैंकों के चेक नहीं लेगा।

-अब से नेशनल हाईवे पर बने सभी टोल प्‍लाजा पर फास्‍टैग लगी गाड़ियां बिना रुके गुजर सकेंगी। केंद्र सरकार ने पिछले साल फास्‍टैग लॉन्‍च किया था।

- फास्‍टैग सिस्टम के दौरान आपकी गाड़ी के शीशे पर एक टैग लगा होगा, जिसे टोल प्‍लाजा पर लगी डिवाइस रीड करेगी और टोल टैक्स टोल प्लाजा के अकाउंट में ट्रांसफर हो जाएगा।

-फास्‍टैग को रिचार्ज कराना भी आसान है। इसे ऑनलाइन रीचार्ज किया जा सकता है। कई बैंकों को इसके लिए ऑथराइज्ड किया गया है।

-रविवार को टेलिकॉम रेग्युलेटर ट्राई द्वारा इंटरकनेक्‍शन यूजेस चार्ज (IUC) में 50% कटौती की गयी है।

Using-phone-while-driving


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें