नेशनल

राफेल: सुप्रीम कोर्ट में 5 घंटे हुई सुनवाई, कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1637
| नवंबर 14 , 2018 , 15:37 IST

राफेल मामले पर सुबह 10.30 बजे से शुरु हुई सुनवाई करीब साढ़े 5 घंटे बाद खत्म हो गई है। कोर्ट ने सरकार, विपक्ष, रक्षा मंत्रालय और वायु सेना के अधिकारियों की दलीलों के सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया है। कोर्ट ने सभी याचिकाओं पर फैसला सुरक्षित रख लिया है।  

राफेल सौदे पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान वायुसेना और रक्षा मंत्रालय के अधिकारी भी मौजूद रहे। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने एयर वाइस मार्शल चेलापति से हाल में शामिल किए गए विमानों के बारे में पूछा। चेलापति ने कहा- वायु सेना में ताजातरीन विमान सुखोई-30 शामिल किया गया है। हालांकि, हमें पांचवीं पीढ़ी के विमानों की जरूरत है इसीलिए राफेल का चयन किया गया।

सुबह करीब 10.30 बजे राफेल मुद्दे पर मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता में सुनवाई शुरु हुई। सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को कुछ राहत दी है। शीर्ष अदालत ने कहा- जब तक हम तय नहीं करते तब तक सरकार को इस विमान की कीमत पर याचिकाकर्ताओं के विवादों का जवाब देने की जरूरत नहीं है।

सुनवाई के दौरान वकील प्रशांत भूषण ने अपनी दलील में कहा कि  राफेल डील में बदलाव किया गया क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहते थे कि इसे अंबानी की कंपनी को दिया जाए। कोर्ट आज तय कर सकता है कि इस मामले की जांच हो या नहीं।

याचिकाकर्ता के वकील एमएल शर्मा ने कोर्ट से कहा कि सरकार की ओर से अदालत में पेश की गई रिपोर्ट से खुलासा होता है कि यह एक गंभीर घोटाला है। उन्होंने यह केस पांच जजों की बेंच के पास ट्रांसफर करने की अपील की।


कमेंट करें