नेशनल

2014 में तिहाड़ से बाहर आने वाली लेडी डॉन सोनू पंजाबन फिर गिरफ्तार, जानें क्यों है कुख्यात

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
729
| दिसंबर 25 , 2017 , 20:12 IST

दिल्ली पुलिस ने लेडी डॉन और सेक्स रैकेट की सरगना कही जाने वाली सोनू पंजाबन उर्फ गीता अरोड़ा को एक बार फिर गिरफ्तार कर लिया है। 40 साल की सोनू को पुलिस ने 16 साल की किशोरी को अगवा कर उससे वेश्यावृत्ति कराने के आरोप में पकड़ा है। सूत्रों के अनुसार, मकोका में आरोपी रही सोनू पंजाबन अक्तूबर 2014 को तिहाड़ जेल से छूटी थी। इसके बाद उसने दोबारा से देह व्यापार का अपना नेटवर्क बनाया और धंधा कराने लगी। क्राइम ब्रांच की टीम अब सोनू से पूछताछ कर उसके नेटवर्क को खंगालने में जुट गई है। 

गिरफ्तारी के समय सोनू पंजाबन ने कमला मार्केट थाने में खूब हंगामा किया। पुसिल के अनुसार, अगस्त 2014 में 16 साल की किशोरी अपने घर के पास से संदिग्ध हालात में गायब हो गई थी।

5555

परिजनों ने इसकी सूचना नजफगढ़ थाना पुलिस को दी। इसके बाद अपहरण का मामला दर्ज कर जांच आरंभ की गई। काफी तलाश करने के बाद भी किशोरी का कुछ पता नही चल सका। इसके बाद 2017 के शुरुआती महीनों में मामले की जांच क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई।

जून 2017 में अगवा किशोरी किसी तरह से बदमाशों के चंगुल से छूटकर घर पहुंची तो मामले का खुलासा हुआ। पीड़िता ने बताया कि घर के पास से ही दो युवकों ने उसे जबरन अगवा कर लिया था। बाद में उन्होंने उसे खुद को सोनू पंजाबन बताने वाली महिला के सामने पेश किया। पीड़िता के मुताबिक, काफी समय तक सोनू ने उसे बंधक बनाकर उससे वेश्यावृत्ति करवाई। बाद में लखनऊ के एक दलाल को बेच दिया गया। किशोरी गर्भवती हुई तो उसे गर्भपात कराने के लिए भी कहा गया। किसी तरह किशोरी वहां से भागकर अपने घर पहुंची।

मामले में सोनू पंजाबन का नाम सामने आते ही पुलिस उसके नेटवर्क को खंगालने में जुट गई। इस दौरान टेक्निकल सर्विलांस के जरिए पुलिस को पता चला कि सोनू पंजाबन किसी से मिलने के लिए दरियागंज आने वाली है। इसके बाद पुलिस ने सोनू को मौके से दबोच लिया। उसे शनिवार देर रात कमला मार्केट थाने लाया गया। वहां हवालात में बंद करने को लेकर उसने खूब हंगामा भी किया। दिल्ली में कुछ वर्ष पहले तक सोनू पंजाबन देह व्यापार के बाजार में सबसे बड़ा नाम मानी जाती रही है।


कमेंट करें