खेल

शमी की और बढ़ सकती हैं मुश्किलें, BCCI करेगी फिक्सिंग के आरोपों की जांच

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
825
| मार्च 14 , 2018 , 19:26 IST

भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की परेशानियां अभी और भी बढ़ती जा रहीं हैं। बुधवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने अपनी एंटी करप्शन यूनिट (एसीयू) को शमी पर लगे सारे आरोपों की जांच करने की अनुमति दे दी है।

गौरतलब है कि शमी के खिलाफ उनकी पत्नी हसीन जहां ने मैच फिक्सिंग के भी आरोप लगाए हैं। सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित क्रिकेट प्रशासकीय कमेटी (सीओए) के चीफ विनोद राय ने एसीयू के प्रमुख नीरज कुमार को एक ई-मेल भेजा है। जिस ई-मेल में मामले की जांच की पूरी रिपोर्ट हफ्ते भर के अंदर लाने को कहा है। उन्होंने यह मेल बीसीसीआई के सभी पदाधिकारियों को मार्क किया है।

211189-mohommad-shami

उधर, पीटीई के मुताबिक इस ई-मेल में कही भी 'मैच फिक्सिंग’ शब्द का इस्तेमाल नहीं किया गया है, बल्कि शमी के खिलाफ आरोपों से संबंधित विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स के संदर्भ में हैं।

हसीन ने मांगी माफी-:

जहान ने गोपनीयता की वकालत करते हुए मीडिया पर अपना आपा खोने के लिए माफी भी मांगी। आपको बता दें कि हसीन जहां ने मंगलवार को पत्रकारों के साथ न सिर्फ बदसुलूकी की, बल्कि एक फोटोग्राफर का वीडियो कैमरा भी तोड़ दिया। यह घटना दक्षिण कोलकाता में सेंट जोसेफ स्कूल के निकट हुई।

प्रॉपर्टी को लेकर शुरू हुआ विवाद-:

यह बात भी सामने आई है कि शमी के प्रॉपर्टी में निवेश को लेकर दोनों में मनमुटाव करीब दो साल से चल रहा था। ऐसा कहना है शमी के तहेरे भाई अंसार अहमद का। उन्होंने बताया कि इसमें मुख्य रूप से 150 बीघे का एक फार्म हाउस है, जो शमी के नाम पर है।

इसे भी पढ़ें-: शमी की पत्नी हसीन जहां ने ममता दीदी से लगाई गुहार, बोलीं- 'वो मुझे जान से मार देगा'

हाईवे किनारे अपने गांव सहसपुर अलीनगर के पास खरीदी गई इस करोड़ों रुपये की जमीन को हसीन अपने नाम कराना चाहती थीं। इतना ही नहीं वह शमी पर लगातार दबाव बना रही थीं कि वह अमरोहा में नहीं बल्कि कोलकाता में प्रॉपर्टी में पैसा निवेश करें। अब यही प्रॉपर्टी विवाद की जड़ मानी जा रही है।


कमेंट करें