राजनीति

कैबिनेट विस्तार पर शिवसेना का तंज, कहा- पता नहीं कब कौन जोकर राजा बन जाए

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1085
| सितंबर 4 , 2017 , 14:16 IST

एनडीए की सहयोगी शिवसेना ने एक बार फिर नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला है। सोमवार को मुखपत्र 'सामना' में लिखे संपादकीय में मोदी सरकार की कमियां गिनाते हुए हमला बोला गया है। लेख में कहा गया है कि अबतक कोई भी मंत्री जनता की आकांक्षाओं पर खरा नहीं उतर पाया है। देश को अभी भी 'अच्छे दिन' का इंतजार है। लेख में मोदी सरकार तंज करते हुए कहा गया है कि पता नहीं कब कौन जोकर राजा बन जाए।

Samna

नोटबंदी, बाढ़ से लेकर बच्चों की मौत तक पर उठाए गए सवाल

संपादकीय में आगे लिखा गया है कि,

नोटबंदी पूरी तरह असफल रही। महंगाई और बेरोजगारी बढ़ी है। आज भी भोजन और आवास की सुविधा सभी को नहीं मिली। मुंबई के विश्वविद्यालयों की उदासीनता के कारण छात्र और उनके अभिभावक मुश्किल में हैं। बिहार, असम, ओडिशा, उत्तर प्रदेश में बाढ़ के कारण हालात खराब हैं। सरकारी अस्पतालों में बच्चे मर रहे हैं। कौन से मंत्रालय ने किस समस्या का समाधान किया है

संपादकीय में मंत्रिमंडल विस्तार पर भी सवाल उठाया गया है। पीएम नरेंद्र मोदी की चीन यात्रा से पहले हड़बड़ी में मंत्रिमंडल में फेरबदल करने की बात कही गई है। लेख में बीजेपी पर करारा प्रहार किया गया है।

शिवसेना को अचरज- कैबिनेट विस्तार के तुरंत बाद चीन क्यों चले गए मोदी

संपादकीय में कहा गया है कि,

मंत्रिमंडल विस्तार प्लेइंग कार्ड के समान है। इसमें कोई नहीं जानता कब कौन जोकर राजा बन जाए। हम पीएम मोदी की चीन यात्रा और कैबिनेट विस्तार की बात भी नहीं समझ पाए हैं। ऐसा क्यों किया गया? क्या चीन इस बात से नाराज हो जाता अगर पीएम मोदी के पास नए मंत्रियों की सूची नहीं होती। पीएम चीन यात्रा के बाद भी मंत्रिमंडल में फेरबदल कर सकते थे

Sanjay raut

शिवसेना ने कहा- यब बीजेपी का कैबिनेट विस्तार है

लेख में कहा गया है कि केंद्र में 3 साल गुजारने के बाद भी पीएम मोदी कैबिनेट में प्रयोग कर रहे हैं। देश आज भी 'अच्छे दिन' का इंतजार कर रहा है। लेख में कहा गया है, 'यह बीजेपी का कैबिनेट विस्तार है। वह हो चुका है।' इधर ऐसी भी खबरें हैं कि शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे मंत्रिमंडल विस्तार में शिवसेना को शामिल नहीं किए जाने से नाराज बताए जा रहे हैं। जब शनिवार को उनसे इस फेरबदल के बारे में पूछा गया था तो उन्होंने कहा था, 'हमें कोई कॉल नहीं आई है। कोई बात नहीं हम सत्ता के भूखे नहीं हैं।'

 

 


कमेंट करें