राजनीति

शिवसेना का बीजेपी पर वार, हार्दिक पटेल को गुजरात में बनाया सीएम पद का प्रत्याशी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1183
| फरवरी 7 , 2017 , 17:51 IST

मुंबई महानगर पालिका चुनाव में बीजेपी को पटखनी देने के लिए शिवसेना ने बड़ा दांव चला है। बीएमसी चुनाव में शिवसेना ने गुजरात के पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल से हाथ मिलाने का फैसला किया है। चुनाव में हार्दिक शिवसेना के लिए वोट मांगेंगे। वहीं शिवसेना ने हार्दिक को गुजरात विधानसभा चुनावों के लिए मुख्‍यमंत्री पद का उम्‍मीदवार घोषित किया है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि हार्दिक इस साल के आखिर में राज्‍य में होने वाले चुनावों में पार्टी का चेहरा होंगे। हार्दिक ने मंगलवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से उनके आवास मातोश्री जाकर मुलाक़ात की।  

 

गुजराती-मराठी का भला हो

उद्धव ठाकरे से मिलने के बाद हार्दिक पटेल ने कहा कि मेरे दिल में बाला साहेब ठाकरे के प्रति बहुत सम्मान है और मैं उनके विचारों से सहमत हूं। उन्होंने कहा कि वह मुंबई में शिवसेना को मदद करेंगे। हार्दिक ने कहा कि वह मुंबई इसलिए आए हैं ताकि गुजराती और मराठी समाज का भला हो सके। 

शिवसेना का बीजेपी पर हमला

उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर करारा हमला किया है। उद्धव ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार नोटिस पीरियड पर चल रही है। उन्होंने कहा कि हमें इस बात का अंदाजा नहीं है कि नोटिस पीरियड कब खत्म हो जाए। शिवसेना के मंत्री हमेशा अपना इस्तीफा जेब में रखकर तैयार रहते हैं। उद्धव ने बीजेपी पर गठबंधन तोड़ने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव शिवसेना ने साथ लड़ी थी, लेकिन विधानसभा चुनाव के दौरान बीजेपी ने गठबंधन तोड़ा और महानगर पालिका चुनाव के दौरान हमने गठबंधन तोड़ा। उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिवसेना अकेले चुनाव जीतेगी।  

मुलाकात के बाद उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे खुद हार्दिक पटेल को छोड़ने मातोश्री के बाहर आए। इस दौरान खास बात यह थी कि आदित्य नंगे पांव नजर आए।

Hardik-Patel-and-Uddhav-Thackeray

उधर, शिवसेना के इस कदम के बाद बीजेपी ने कहा कि सरकार को कोई खतरा नहीं है। बीएमसी चुनावों के मद्देनजर बीजेपी का घोषणा पत्र जारी करते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फणनवीस ने कहा कि अगले पांच साल उनकी सरकार को कोई खतरा नहीं है। पीएम मोदी को प्रचार में बुलाने के सवाल पर फणनवीस ने जवाब देते हुए कहा कि, प्रचार के लिए मोदी को मुंबई में बुलाना है या नहीं, बात में देखा जाएगा, शिवसेना पहले मुझसे तो लड़ लें।


कमेंट करें