नेशनल

2G मामला: जिसे देश का सबसे बड़ा घोटाला कहा गया उसके तीनों केस में सभी आरोपी बरी

| 0
337
| दिसंबर 21 , 2017 , 12:29 IST

2 जी स्पेक्ट्रम घोटाले मामले में मुख्य आरोपी पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा और डीएमके सांसद कनिमोझी पर सीबीअाई की विशेष अदालत ने अाज अपना फैसला सुनाते हुए सभी आरोपियों को बरी कर दिया है। इस घोटाले से जुड़े तीनों केस में कोर्ट ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया।

इस मामले में सीबीआई कोर्ट में सबूत पेश करने में नाकाम रही। जिसके चलते सबूतों के अभाव में सभी आरोपियों को बरी कर दिया गया। फैसला आने के बाद ए. राजा के समर्थकों ने तालियां बजाईं।

कोर्ट ने कहा है कि सरकारी वकील सबूत पेश करने में नाकाम रहे हैं। बचाव पक्ष के वकील ने कहा है कि कोर्ट ने एक लाइन में फैसला दिया है। वहीं कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा है कि अब इस फैसले के बाद तत्कानी सीएजी विनोद राय को पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए। विनोद राय की रिपोर्ट फर्जी थी और फर्जी रिपोर्ट देने को लेकर उनके खिलाफ केस दर्ज होना चाहिए।

इस घोटाले में तत्कालीन टेलीकॉम मंत्री ए. राजा, डीएमके नेता करुणानिधि की बेटी और राज्यसभा सांसद कनीमोझी, तत्कालीन टेलीकॉम सेक्रेट्री सिद्धार्थ बेहरुआ और ए. राजा के मंत्री रहते उनके निजी सचिव रहे आरके चंदोलिया सहित 17 उद्योगपति भी आरोपी थे।

2जी स्कैम आजाद भारत के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला माना जाता है। गुरुवार को सीबीआई के 80,000 पेज के चार्जशीट और लंबी सुनवाई के बाद ट्रायल कोर्ट में इस घोटाले पर फैसला सुनाया। 


author

कमेंट करें