नेशनल

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज 5 दिवसीय दौरे पर दक्षिण अफ्रीका के लिए हुईं रवाना

रवि शर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
778
| जून 2 , 2018 , 21:27 IST

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पांच दिवसीय दक्षिण अफ्रीका की यात्रा पर रवाना हो गई है। वह वहां ब्रिक्स और आईबीएसए समूह के सभी शीर्ष नेताओं से मुलाकात करेंगी। बता दें कि ये दो ऐसे अंतरराष्ट्रीय समूह हैं, जहां भारत लंबे समय से एक अहम भूमिका निभाता आ रहा है।


जारी बयान के मुताबिक, अफ्रीकी देश के दौरे पर रवाना हुईं सुषमा स्वराज 4 जून को होने वाले ब्रिक्स (ब्राजील, रूस, भारत, चीन, दक्षिण अफ्रीका) सदस्यों के साथ होने वाले बैठक में हिस्सा लेंगी जिसमें अगले महीने जोहानिसबर्ग में होने वाले वार्षिक शिखर सम्मेलन के बारे में चर्चा की जाएगी। आइबीएसए (भारत, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका) के विदेश मंत्रियों से भी वे मुलाकात करेंगी जहां अहम वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। 



वह छह जून को दक्षिण अफ्रीका की विरासत फीनिक्स उपनिवेश का दौरा करेंगी, जहां महात्मा गांधी का आवास था। दक्षिण अफ्रीका की इसी धरती पर गांधी ने अपने अहिंसा दर्शन का विकास किया था। वह महात्मा गांधी को ट्रेन के डब्बे से उतार देने की घटना की 125वीं बरसी पर अफ्रीका के पीटरमारित्जबर्ग में 6-7 जून को आयोजित होने वाले कई कार्यक्रमों में शिरकत करेंगी। 

To attend BRICS and IBSA Ministerial Meetings and to commemorate Making of Mahatma at Pietermaritzburg! EAM @SushmaSwaraj emplanes for South Africa. pic.twitter.com/kv40EnpmWC

— Raveesh Kumar (@MEAIndia) June 2, 2018 >दो दिवसीय उत्सव के दौरान दक्षिण अफ्रीका में रंगभेद-विरोधी क्रांतिकारी नेता ओलिवर टैंबो और भारतीय जनसंघ के नेता दीन दयाल उपाध्याय के नाम पर संयुक्त स्मारक टिकट जारी किए जाएंगे। इसके अलावा एक युवा सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा, जिसमें आज के युवाओं के लिए गांधी के शांति के संदेश की प्रासंगिकता पर व्याख्यान में अफ्रीका के 20 प्रवासी और भारत के पांच युवा हिस्सा लेंगे। 

आपको बता दें कि, दक्षिण अफ्रीका औऱ भारत के बीच राजनयिक संबंधों के 25 साल पूरे हो चुके हैं इस वजह से भी वर्ष 2018 में सुषमा स्वराज का ये दौरा अहम माना जा रहा है। इसी समय में नेल्सन मंडेला की 100 वीं जन्मशती भी है। कहा गया कि विदेश मंत्री की इस यात्रा से दक्षिण अफ्रीका के साथ भारत के करीबी और दीर्घकालिक संबंधों को और मजबूती मिलेगी। 


कमेंट करें