मनोरंजन

ग्रैमी अवार्ड में चमके भारतीय तबला वादक संदीप दास, यो यो मा को मिला बेस्ट वर्ल्ड म्यूजिक अवार्ड

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1374
| फरवरी 13 , 2017 , 11:53 IST

इस साल का ग्रैमी अवार्ड यो यो मा के सिल्क रोड म्यूजिक बैंड को मिला है। खास बात यह है इस यो यो सिल्क रोड इनसेंबल म्यूजिक बैंड के ग्रुप में भारतीय तबला वादक संदीप दास भी शामिल हैं। म्यूजिक कटैगरी में इस साल का बेस्ट वर्ल्ड म्यूजिक अवार्ड यो यो मा सिल्क रोड इनसेंबल म्यूजिक बैंड के गाने सिंग मी होम को मिला है।

इस कैटेगिरी में भारत की मशहूर सितार वादक अनुष्का शंकर भी शामिल थी, लेकिन उन्हें इस साल निराशा ही हाथ लगी। उनका गाना लैंड ऑफ गॉड भी वर्ल्ड म्यूजिक कैटेगरी के नॉमिनेशन में शामिल था।

भारतीय सितारवादक अनुष्का शंकर छठी बार भी अपने विश्व संगीत नामांकन को ग्रैमी अवॉर्ड में तब्दील करने में नाकामयाब रहीं। वायलिन वादक यो यो मा ने उन्हें मात देते हुए इस साल का ग्रैमी अपने नाम किया। यो यो मा को सर्वश्रेष्ठ विश्व संगीत एल्बम श्रेणी में उनकी एल्बम सिंग मी होम के लिए नवाजा गया। उनका यह 19वां ग्रैमी अवॉर्ड है।

अनुष्का को उनकी एल्बम 'लैंड ऑफ गॉड' के लिए नामित किया गया था जो वैश्विक शरणार्थी संकट पर आधारित है। संगीत समारोह में अनुष्का अपने पति एवं ब्रिटिश निर्देशक जो राइट के साथ पहुंची थी। उन्होंने अपने पति जो राइट के बारे में ट्वीट किया-

काफी उत्साहित हूं कि यह शख्स आज रात मेरे साथ है पहली बार, इनके पास मेरे साथ आने का समय था।

Yo yo

भारतीय तबला वादक संदीप दास इस साल के ग्रैमी अवार्ड समारोह में लाल कुर्ते में नजर आए।

 

Just cruising down the road dressed in my normal day clothes @sabyasachiofficial #grammys2017

A photo posted by Anoushka Shankar (@anoushkashankarofficial) on

वहीं अनुष्का शंकर सब्यसाची द्वारा डिजाइन की गई लाल रंग की गाउन पहनकर ग्रैमी में शिरकत की थीं। अनुष्का मशहूर सितार वादक पंडित रवि शंकर की बेटी हैं। 20 साल की उम्र में उन्हें पहली बार ग्रैमी पुरस्कार के लिए नामित किया गया था। बहरहाल उनके दिवंगत पिता के नाम दो व्यक्तिगत और दो साझा ग्रैमी पुरस्कार हैं।

सुनिए यो यो मा का सिंग मी होम गाना


कमेंट करें