खेल

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शर्मनाक हार की जिम्मेदार हैं ये 4 बातें !

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1286
| फरवरी 25 , 2017 , 17:47 IST

ऑस्ट्रेलियाई टीम ने उम्मीदों से उलट प्रदर्शन करते हुए महाराष्ट्र क्रिकेट संघ (एमसीए) स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट मैच में पिछले 19 टेस्ट मैचों से अपराजित चली आ रही मेजबान भारतीय टीम को तीसरे दिन शनिवार को ही 333 रनों से करारी शिकस्त दी।

चौथी पारी में भारत को जीत के लिए 441 रन चाहिए थे और उसके पास तकरीबन ढाई दिन का समय था। ऑस्ट्रेलिया की स्पिन जोड़ी स्टीव ओ कैफी और नाथन लॉयन ने भारतीय टीम को 33.5 ओवरों में 107 रनों पर ही ढेर कर टीम को शानदार जीत दिलाई। भारत की तरफ से गेंदबाज़ी अच्छी हुई जैसा की कोहली ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, भारत ने अपने स्तर से कहीं ज्यादा निचले स्तर की बल्लेबाजी की।

C5f_f37WgAAb5l-

भारत की हार के ये 4 कारण- 

सलामी बल्लेबाज मुरली विजय-

401597-murali-vijay-2

भारतीय टेस्ट टीम के लिए ओपनिंग करने वाले मुरली विजय ने मैच की दोनों परियों को मिलाकर सिर्फ 12 रन बनाये। दोनों ही पारियों में भारत को जब अच्छी शुरुआत की जरूरत थी तो मुरली विजय ने सस्ते में अपना विकेट गवां दिया।

कप्तान विराट कोहली-

C5gBOm1WAAA2zyI

19 मैचों में अपराजित रही भारतीय टीम का नेतृत्व करते आ रहे विराट कोहली ने यूं तो हर बार भारत को सँभालने का जिम्मा अपने कन्धों पर लिया लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली पारी में सलामी बल्लेबाजों के जल्दी आउट होने के बाद कोहली भी बिना खता खोले पवेलियन लौट गए और दूसरी पारी में भी सिर्फ 13 रन बनाकर आउट हो गए।

मिडिल ऑर्डर में पुजारा और रहाणे का ना चलना-

30rahane-pujara1

द्रविड़ और लक्ष्मण के जाने के बाद इन दोनों की भरोसेमंद जोड़ी ने उनकी कमी को पूरा करने की अच्छी कोशिश की। पिछले टेस्ट मैचों में अगर एक नहीं चलता था तो दूसरा अच्छा साथ देते हुए टीम को आगे ले जाता था। लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ न जाने ऐसा क्या हुआ की सलामी बल्लेबाज़ी के बिखरते ही पूरी टीम मानो ताश के पत्तों की तरह बिखर गई। सलामी बल्लेबाजी फेल होने के बाद ये दोनों मिडिल आर्डर के बल्लेबाज भी टीम को सँभालने में सफल नहीं रहे। दोनों ने मिलकर दोनों परियों में महज 68 रन बनाये। भारतीय टीम के विकेट कीपर रिद्धीमान साहा ने भी अच्छा प्रदर्शन नहीं किया।

ऑल रॉउंडरों का ना चलना-

534101-jadeja-and-ashwin22-pti

भारतीय गेंदबाज़ी का मोर्चा संभालते हुए आश्विन, जडेजा और जयंत ने अच्छा प्रदर्शन किया। लेकिन, जब बात बल्लेबाजी की आई तो इन तीनो ने भी घुटने टेक दिए। इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में जयंत यादव, आश्विन और जडेजा ने गेंदबाज़ी के साथ साथ बल्लेबाजी में भी अच्छा प्रदर्शन किया था।


कमेंट करें