बिज़नेस

यदि आपको सैलरी मिलती है तो बजट से मिल सकती है ये 5 राहत

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
624
| जनवरी 31 , 2018 , 11:14 IST

मोदी सरकार अपने कार्यकाल का अंतिम पूर्ण बजट कल पेश करने वाली है। कहा जा रहा है कि इस बार के बजट में वेतन भोगी करदाताओं को कई तरह के भत्तों पर कटौती का लाभ मिल सकता है। कुछ भत्ते तो ऐसे हैं जिनमें महंगाई बढ़ने के बावजूद पिछले एक दशक से बदलाव नहीं हुए हैं, जिनके बजट में बढ़ने की उम्मीद है।

आइए नजर डालते हैं उन बातों पर जिन पर करदाताओं को राहत मिलने की उम्मीद है

1. वेतन पर मानक कटौती

प्रचलित: 1974-75 में वेतन पर मानक कटौती का नियम लागू हुआ था। जिसे करीब 32 साल बाद 2006-07 में पी.चिदंबरम ने बेसिक छूट और सेक्शन 80 C कटौती के तहत वापस लिया था। उस वक्त 5 लाख के ऊपर वेतन पाने वालों को 20 हजार रुपये तक राहत मिलती थी।

उम्मीद: टैक्स पेयर्स यह उम्मीद कर रहे हैं कि मानक कटौती पर राहत एक लाख रुपये तक हो सकती है।

2. ट्रांसपोर्ट भत्ता प्रचलित

2015 बजट में ट्रांसपोर्ट भत्ता 800 रुपये से बढ़ाकर 1600 रुपये प्रति माह किया गया था।

उम्मीद: इस बार भत्ते को 3,000 रुपये प्रति माह बढ़ाने की उम्मीद की जा रही है। हर माह मेट्रो में लंबा सफर करने वाले इस तरह के खर्च का भार उठाते हैं।

3. मेडिकल रिम्बर्समेंट प्रचलित

1999 से हर साल 15 हजार रुपये

उम्मीद: मेडिकल क्षेत्र में बढ़ी महंगाई के बाद इस रिम्बर्समेंट को 50 हजार रुपये प्रति वर्ष बढ़ाने की उम्मीद की जा रही है।

4. LTA प्रचलित

इनकम टैक्स एक्ट में सेक्शन 10(5) के तहत चार साल में दो बार परिवार के साथ ट्रैवल करने के लिए एलटीए (लीव ट्रैवल अलाउंस) दिया जाता है। यह अब तक केवल भारत में ही ट्रैवल करने पर मिलता है।

उम्मीद: इस बार उम्मीद है कि दो बार की लिमिट को हटाया जाए. साथ ही विदेश यात्रा की भी छूट मिले।

5. लीव एनकैशमेंट प्रचलित

फिलहाल रिटायरमेंट के समय इनकम टैक्स एक्ट के तहत सेक्शन 10 (10AA)में 3 लाख रुपये तक लीव एनकैशमेंट होता है।

उम्मीद: बजट में उम्मीद की जा रही है कि लीव एनकैशमेंट की राशि बढ़ाकर 10 लाख रुपये की जाए।


कमेंट करें