राजनीति

नीतीश कुमार के विशेष राज्य की मांग पर भड़के तेजस्वी, मांगा CM पद से इस्तीफा

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
704
| मई 30 , 2018 , 08:36 IST

नीतीश कुमार ने एक बार फिर से बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को दोहराया है। जिससे बिहार की राजनीति गरमाती हुई दिख रही है। पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर मोर्चा खोल लिया है।

कभी नीतीश सरकार में उपमुख्यमंत्री की कुर्सी संभाल चुके तेजस्वी ने कहा, 'लोग जान चुके हैं कि पलटी मारने के लिए नीतीश कुमार भूमिका बना रहे हैं। वह ऐसी छवि बनाना चाहते हैं, जिससे साबित हो कि वह बिहार के विकास के लिए काम कर रहे हैं।

विशेष राज्य की मांग के बहाने बीजेपी पर वह दबाव की राजनीति करना चाह रहे है। वह बीजेपी से दोस्ती तोड़ने का मौका टटोल रहे हैं। लेकिन सच्चाई तो यह है कि उन्हें (नीतीश) अपने वोट बैंक और मुख्यमंत्री बने रहने की चिंता है।'

मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दें नितीश कुमार-:

लालू के बेटे ने कहा, 'बिहार के स्पेशल स्टेटस की राह में नीतीश कुमार ही सबसे बड़े बाधा हैं। वह जब मुख्यमंत्री बने थे, तभी उन्होंने इसकी मांग की थी। वह लंबे समय से बिहार के मुख्यमंत्री हैं, लेकिन अब तक बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिल पाया। ऐसे में नैतिकता के आधार पर उन्हें मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।'

बता दें कि नीतीश कुमार ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी पुरानी मांग को दोबारा उठाते हुए केंद्र सरकार से तत्काल इस दिशा में पहल करने का आग्रह किया। नीतीश कुमार ने मंगलवार को ब्लॉग लिखकर बिहार को किन कारणों से स्पेशल स्टेटस दिया जाना चाहिए इस बारे में विस्तार से लिखा है। नीतीश ने बिहार को स्पेशल स्टेटस देने का मुद्दा ठीक ऐसे समय उठाया है जब उन्होंने कुछ दिन पहले बिहार को बाढ़ राहत पर मिलने वाले केंद्रीय सहायता में कटौती पर एतराज जताया था और नोटबंदी के अपेक्षित परिणाम नहीं मिलने की बात कही थी।

एक तीर से दो निशाना मारने की कोशिश -:

2013 में एनडीए से अलग होने में यही मुद्दा तात्कालिक कारण बना था। आरजेडी का साथ छोड़ने के बाद बीजेपी के साथ दोबारा सरकार में आए नीतीश कुमार पर आरजेडी अपनी राजनीति के लिए इस मुद्दे को नजरअंदाज करने का आरोप लगाती रही है। ऐसे में नीतीश कुमार ने इस मुद्दे को दोबारा से उठाकर दोहरा निशाना मारने की कोशिश की है।

इसे भी पढ़ें-: एक दूसरे के बिना नही रह सकते शिवसेना और बीजेपी : नितिन गडकरी

अभी पिछले दिनों आंध्र प्रदेश के सीएम और टीडीपी सुप्रीमो चंद्रबाबू नायडू ने भी इस मुद्दे पर आंदोलन किया था और एनडीए से अलग हुए थे। जेडीयू सूत्रों के अनुसार नीतीश कुमार एनडीए में रहकर ही बिहार के हित पर अपनी आवाज उठाते रहेंगे।


कमेंट करें