राजनीति

मूर्ति पॉलिटिक्स: लेनिन-पेरियार-अंबेडकर की मूर्ति तोड़ने पर छिड़ा सियासी संग्राम

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1389
| मार्च 7 , 2018 , 17:50 IST

देश भर में एक दूसरे के आदर्शों की मूर्ति तोड़ सियासत के बीच उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और बीजेपी चीफ अमित शाह समेत कई दलों के नेताओं ने इन घटनाओं की निंदा की है। नायडू ने राज्यसभा में मूर्ति तोड़ने वाले को मैड बता डाला। उन्होंने कहा कि मूर्ति तोड़ने वाले मैड हैं और हंगामा करने वाले बैड। बीजेपी चीफ शाह ने साफ किया कि पार्टी मूर्ति तोड़ने की घटनाओं का समर्थन नहीं करते हैं। मूर्ति तोड़ने की घटनाएं दुखद हैं।

कांग्रेस ने कहा- बीजेपी दलितों का करती है अपमान

कांग्रेस ने तमिलनाडु के वेल्लूर में महान समाज सुधारक एवं द्रविड़ आंदोलन के प्रणेता ई वी रामासामी पेरियार की मूर्ति तोड़े जाने की घटना की आज निंदा करते हुए इसे दलितों और गरीबों का अपमान करार दिया।

लोकसभा में कांग्रेस का हंगामा

लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने यहां संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा कि भारतीय जनता पार्टी सत्ता के मद में घृणित काम कर रही है। पेरियार ने दलितों, गरीबों और महिलाओं को समाज में बराबरी का भागीदार बनाने की लड़ाई लड़ी थी और उनकी मूर्ति को ताेड़ना इन वर्गों के साथ ही देश का भी अपमान है और इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी के लोग गुंडागर्दी पर उतर आए हैं और समाज के एक बड़े वर्ग को अपमानित किया जा रहा है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ तथा भाजपा समाज के विभिन्न वर्गों पर अपनी विचारधारा थोपने के लिए गुंडागर्दी का सहारा लेने लगी है। भाजपा को समझ लेना चाहिए कि लोकतंत्र को असहिष्णु होकर नहीं चलाया जा सकता है, इसलिए उसे देश के दलितों तथा गरीबों का अपमान बंद करना चाहिए।

इससे पहले कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने पेरियार की मूर्ति तोड़ने को भाजपा की गरीब, दलित और महिला विरोधी मानसिकता का प्रतीक बताया और आरोप लगाया कि भाजपा के राष्ट्रीय सचिव एच राजा ने पेरियार के प्रति अभद्र शब्द कहे हैं और उनकी मूर्ति की तोड़-फोड़ के लिए कहा है। कांगेस नेता ने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा नेताओं ने वेल्लूर में पेरियार की मूर्ति तोड़ी है।

लेनिन के बाद पेरियार की मूर्ति तोड़ने का आरोप भी बीजेपी पर

बता दें कि त्रिपुरा में लेनिन और तमिलनाडु में पेरियार की मूर्ति तोड़ने का आरोप बीजेपी से जुड़े लोगों पर लग रहे हैं। लगभग सभी बड़ी पार्टियों ने मूर्ति तोड़ने की घटनाओं की निंदा की है। हालांकि इस मसले पर अब सियासत भी शुरू हो गई है। देश के कई हिस्सों में मूर्ति तोड़ने की घटनाओं पर राज्यसभा में जमकर हंगामा हुआ।

बीजेपी चीफ अमित शाह ने मूर्ति तोड़ने की घटनाओं को गलत बताया

बीजेपी चीफ शाह ने कई ट्वीट कर मूर्ति तोड़ने की घटनाओं को गलत करार दिया। उन्होंने कहा, 'हम मूर्ति तोड़ने की घटनाओं का समर्थन नहीं करते हैं। ये घटनाएं दुखद हैं। अगर इन घटनाओं में बीजेपी से जुड़े लोग शामिल हुए तो उनपर कार्रवाई होगी।' 'उन्होंने कहा, 'हमारा मुख्य मकसद लोगों के जीवन में बदलाव लाना है। हमारे काम को लोगों ने सराहा है और इसके लिए हम जनता आभार जताते हैं। देश के 20 राज्यों में बीजेपी और उसके सहयोगी दलों की सरकार हैं।

शाह ने तमिलनाडु और त्रिपुरा में मूर्ति तोड़ने की घटनाओं का संज्ञान लेते हुए वहां के पार्टी चीफ से बात की है। उन्होंने कहा, 'मैंने तमिलनाडु और त्रिपुरा में पार्टी यूनिट से बात की है। पार्टी का कोई शख्स अगर इसमें शामिल हुआ तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। बीजेपी सभी विचारों का सम्मान करती है और रचनात्मक राजनीति के लिए प्रतिबद्ध है।'


कमेंट करें