नेशनल

यहां 1 जनवरी को पैदा हुए 800 लोग, कोई संयोग नहीं यह 'आधार' कांड है

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
440
| अक्टूबर 28 , 2017 , 09:01 IST

आधार को लेकर एक और समस्या सामने आयी है। आपको पढ़ने में अजीब जरूर लगेगा लेकिन यह खबर वाकई चौंकाने वाली है। एक गांव के तकरीबन 800 परिवारों का हर शख्स का जन्म 1 जनवरी को ही हुआ है। जी हां, उनका आधार कार्ड देखकर तो यही पता लगता है कि सबका जन्म एक ही दिन हुआ है। हालांकि जानकार इसके आधार कार्ड की गड़बड़ी बता रहे हैं। यह मामला है हरिद्वार से करीब 20 किलोमीटर दूर खाटा गांव का।  आधार कार्ड के डेटा के हिसाब से, खाटा गांव के मोहम्मद खान की जन्मतिथि 1 जनवरी है। वहीं, उनके पड़ोसी अलफदीन की जन्मतिथि भी 1 जनवरी है।

खबर के मुताबिक, इस गांव के 800 परिवार के हर सदस्य का जन्म आधार के हिसाब से 1 जनवरी को हुआ है।सभी ग्रामीणों ने आधार बनवाते वक्त अपने पहचान पत्र और वोटर आईडी दिए थे, इसके बावजूद इतने बड़े स्तर पर लापरवाही सामने आई है।गांव वालों ने बताया है कि उन्होंने आधार कार्ड बनाने वाली एजेंसी को राशन कार्ड, वोटर आई डी कार्ड जैसी चीजें दिया था जिनसे वह हमारी जन्मतिथि देख सकती थी, और उसके मुताबिक आधार कार्ड में अंकित कर सकती थी।

लेकिन एजेंसी ने गड़बड़ी करते हुए सभी की जन्म की तारीख एक ही कर दी। ऐसा नहीं है कि देहरादून के इस गांव में यह पहला मामला सामने आया है। इसके पहले भी इस तरह के मामले सामने आ चुके हैं जहां पूरे गांव के लोगों के जन्म की तारीख एक ही पाई गई है। अगस्त महीने में ही उत्तर प्रदेश के आगरा और इलाहाबाद में इस तरह के मामले सामने आए थे। जहां पूरे के पूरे गांव के लोगों की जन्मतिथि 1 जनवरी ही दर्ज पाई गई थी।

6


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें