नेशनल

बेगुसराय: छात्रा को अगवा करने आए बदमाशों पर टूटा भीड़ का कहर, 3 की मौत

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1535
| सितंबर 8 , 2018 , 16:26 IST

बिहार के बेगूसराय जिले के छौड़ाही थाना क्षेत्र में शुक्रवार को एक मॉब लिंचिंग की घटना का मामला सामने आया है। इस घटना में मारे गए तीन लोग शातिर अपराधी थे। ये अपराधी शुक्रवार को स्कूल के अंदर छात्रा को अगवा करने के इरादे से घुस गए। ये जब तक अपने मंसूबे में कामयाब होते तब तक बहूत देर हो चुकी थी। वहां स्थानीय भीड़ के हत्थे चढ़ने के बाद तीनो अपराधी मारे गए।

तीन बदमाशों की पीट-पीटकर हत्या के मामले में अब थाना प्रभारी पर गाज गिरी है। मामले की जांच में लापरवाही बरतने पर छौड़ाही थाना प्रभारी को सस्पेंड कर दिया गया है।

लोगों ने बताया कि बेगूसराय जिले के छौराही थाना क्षेत्र के पंसल्ला गांव स्थित नवसृजित प्राथमिक विद्यालय में पढ़ने वाली एक छात्रा को अगवा करने के इरादे से ये तीनों बदमाश वहां पहुंचे थे। ये छात्रा को अगवा करके ले जाने की फिराक में थे, तभी स्कूल के प्रिंसिपल ने इसका विरोध किया। इस पर इन बदमाशों ने प्रिंसिपल की पिटाई कर दी।

इसके बाद स्कूल परिसर में हो हल्ला मच गया, जिसकी वजह से स्थानीय लोग वहां पर इकट्ठा हो गए। सैकड़ों की भीड़ स्कूल में इकट्ठा होते देख तीनों बदमाश वहां से भागने लगे। इस बीच लोगों ने एक बदमाश को पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई कर दी। इस पर भी लोगों का गुस्सा शांत नहीं हुआ, तो उन्होंने स्कूल के एक कमरे में छिपे बाकी दो बदमाशों को भी निकालकर खदेड़ा और जमकर पिटाई की।

बताया गया कि इस दौरान पास से गुजर रही कुछ महिलाओं को स्कूल में शोरगुल सुनाई दिया। महिलाओं ने स्कूल में अपराधियों को देखकर शोर मचाया, जिससे आसपास के ग्रामीण जुट गए। बताया जा रहा है कि इसके बाद ग्रामीणों ने मौके से भाग रहे तीन बदमाशों को पकड़ लिया और पिटाई शुरू कर दी। एक बदमाश भागने में सफल रहा।

इसे भी पढ़ें-: बेंगलुरू में होगा 'एयरो इंडिया शो', फरवरी 2019 में होगा आयोजन

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि भीड़ की पिटाई से एक बदमाश की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि दो अन्‍य ने स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र ले जाते समय दम तोड़ दिया। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि मृतकों की पहचान कुंभी गांव निवासी मुकेश महतो, बौना सिंह और रोसड़ा के हीरा सिंह के रूप में की गई है।

मंझौल के पुलिस उपाधीक्षक सूर्यदेव कुमार के मुताबिक शुक्रवार को पुलिस ने सभी शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल भेज दिया था। इसके बाद पुलिस इस मामले में स्थानीय लोगों से पूछताछ में जुटी।


कमेंट करें