नेशनल

भारत और वियतनाम के बीच परमाणु ऊर्जा समेत 3 अहम करार

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
688
| मार्च 3 , 2018 , 18:47 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां शनिवार को वियतनाम के राष्ट्रपति त्रान दाई क्वांग का दोनों देशों के बीच होने वाली द्विपक्षीय वार्ता से पहले हैदराबाद हाउस में स्वागत किया। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर कहा कि मोदी ने हैदराबाद हाउस में क्वांग का स्वागत किया। क्वांग पहली बार भारत के आधिकारिक दौरे पर आए हैं।

दोनों देशों के बीच परमाणु ऊर्जा समेत 3 समझौतों पर दस्तखत हुए। मुलाकात के दौरान मोदी ने कहा कि दोनों देशों ने तय किया है कि डिफेंस प्रोडक्शन में आपसी सहयोग बढ़ाया जाएगा और टेक्नोलॉजी की साझेदारी की संभावनाएं तलाशी जाएंगी। भारत के आसियान देशों से संबंध और एक्ट ईस्ट पॉलिसी के फ्रेमवर्क में वियतनाम खास स्थान रखता है।

वो क्षेत्र जिसमें हुए समझौते-

-: परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में सहयोग।

-: अर्थव्यवस्था और कारोबार में सहयोग।

-: टेक्नोलॉजी की साझेदारी और खेती के क्षेत्र में टेक्निकल एक्सपर्ट्स की विजिट में सहयोग।

मोदी ने क्या कहा....?

-: नरेंद्र मोदी ने कहा, "हम मिलकर ऐसे खुले, आजाद और समृद्ध इंडो-पैसिफिक एरिया के लिए काम करेंगे, जहां संप्रभुता और अंतर्राष्ट्रीय कानून का पूरा सम्मान किया जाएगा।"

-: उन्होंने कहा, "भारत और वियतनाम रिन्यूएबल एनर्जी, एग्रीकल्चर, टेक्सटाइल, तेल और गैस समेत अन्य क्षेत्रों में अपने रिश्ते और मजबूत करेंगे।"

-: मोदी ने कहा, "हम न सिर्फ गैस और तेल के सेक्टर में द्विपक्षीय रिश्तों को बेहतर बनाएंगे, बल्कि अन्य देशों के साथ मिलकर त्रिपक्षीय संबंधों को भी आगे बढ़ाने का काम करेंगे।"

इसे भी पढ़ें-: ऐतिहासिक: त्रिपुरा में लाल रंग को भगवा रंग ने चटाई धूल, शून्य से शिखर पर पहुंची BJP

15 अरब डॉलर तक बढ़ेगा बिजनेस-

-: विदेश मंत्रालय के स्पोक्सपर्सन रवीश कुमार ने ट्वीट किया है कि भारत और वियतनाम का 2016-17 में बिजनेस 6.24 अरब डॉलर (40,682 करोड़ रुपए) रहा। दोनों देशों के बीच बिजनेस को 2020 तक 15 अरब डॉलर (97,795 करोड़ रुपए) तक बढ़ाने पर सहमति बनी है।

[डिस्क्लेमर: यह समाचार सिंडिकेट फीड से प्रकाशित किया गया है, इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया है।]

शुक्रवार को भारत पहुंचे गए थे क्वांग-:

-: प्रेसिडेंट त्रान दाई क्‍वांग शुक्रवार को भारत पहुंचे थे। इसके बाद वे बौद्धों के पवित्र तीर्थस्थल बिहार के बोधगया गए।

-: शनिवार सुबह क्वांग को राष्ट्रपति भवन में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इस दौरान प्रेसिडेंट रामनाथ कोविंद और नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहे। क्वांग ने राजघाट पहुंचकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि भी दी।

-: वहीं, समझौतों से पहले क्‍वांग ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी मुलाकात की।

-: प्रेसिडेंट क्‍वांग के साथ आए डेलिगेशन में वियतनाम के वाइस प्रेसिडेंट और विदेश मंत्री फाम बिन मिन्ह के अलावा कई मंत्री शामिल हैं। इनके साथ एक बिजनेस डेलिगेशन भी है।


कमेंट करें