नेशनल

भक्तों को सेक्स के लिए उकसाती है राधे मां, जानिए किसने लगाए ये आरोप

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
3197
| सितंबर 9 , 2017 , 18:16 IST

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम के जेल जाने के बाद अब खुद को देवी मां की अवतार बताने वाली राधे मां विवादों में फसती नज़र आ रहीं है। राधे मां को लेकर हैरान कर देने वाले खुलासे हो रहे है। पहले से दहेज प्रताड़ना के आरोप में फंसी राधे मां के खिलाफ एक शख्स ने गंभीर आरोप लगाया है।बीएचपी के पूर्व सदस्य सुरेंद्र मित्तल ने आरोप लगाया है कि राधे मां उन्हें शारीरिक संबंध बनाने के लिए उकसाती थी और ऐसा नहीं करने से अपशब्द भी बोलती थी। मीडिया में जो खबरें चल रही है उसके अनुसार सुरेंद्र मित्तल खुलासा किया कि राधे मां उन्हें कई तरीके से उत्तेजित करती थी। उन्होंने बताया कि राधे मां उन्हें कई बार आई लव यू भी कही थी, लेकिन जब उनकी बात में नहीं आया।

तो उन्होंने मुझे भद्दी-भद्दी गालियां भी दी थी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सुरेंद्र मित्तल के वकील ने मामले में राधे मां को नोटिस भी भेजा था। अब वो राधे मां के खिलाफ अदालत की अवमानना करने का केस दायर कर रहे हैं।

पूर्व भक्‍त मनमोहन गुप्‍ता ने भी लगाया आरोप -

मनमोहन गुप्‍ता मुंबई के फेमस एमएम मिठाईवाला के मालिक हैं और उन्‍हीं के म‍कान के उपरी हिस्‍से में राधे मां रहती थीं। एक न्‍यूज चैनल को दिए इंटरव्‍यू के दौरान मनमोहन गुप्‍ता ने राधे मां पर गंभीर आरोप लगाते हुए बताया था मनमोहन गुप्‍ता ने कहा, जो भी इच्‍छुक व्‍यक्‍त‍ि राधे की चौकी का कार्यक्रम रखता है, उसे चौकी का रेट कार्ड थमा दिया जाता है। उसे अपनी हैसियत के मुताबिक राधे की मांग पूरी करनी पड़ती है। सबसे बड़ी चौकी का आयोजन करने वाले भक्‍त को राधे मां का किस मिलता है। वह भक्‍त राधे मां को गोद में उठा सकता है, इतना ही नहीं उसे राधे को गले लगाने का मौका भी मिलता है। कई बार भक्‍त की हैसियत के मुताबिक रेट कार्ड कम या ज्‍यादा भी किया जाता है।चौकी के आयोजन से संबंधित सारी डीलिंग राधे के खास एजेंट टल्‍ली बाबा करते हैं।

राधे मां का प्रसाद देने का तरीका-

राधे मां का प्रसाद देने का तरीका बाकी सभी धर्म गुरुओं से काफी अलग है ।भक्त बताते हैं कि वे अपने मुंह में पेड़ा रखकर भक्तों की फैली हुई हथेली में उगल देती हैं , ये प्रसाद उनके भक्तों के लिए सबसे फलदाई प्रसाद होता है।भक्त मानते हैं कि राधे मां को गोद में लेने के बाद उनकी किस्मत खुल जाती हैं ये उनके लिए सबसे बड़ा आशीर्वाद होता है। भक्तों दावा है कि राधे मां जब डांस करती हैं तब उनके इस रूप में एक बच्ची का भाव होता है इसलिए भक्त उन्हें गुड़ियादेवी मां कहकर बुलाते हैं। वे गोदी में चढ़कर ये बताने की कोशिश करती हैं कि भक्त जिनकी पूजा कर रहे हैं वे उनके साथ हैं।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें