खेल

IND vs SA: सेंचुरियरन टेस्ट को जीतने के लिए करने होंगे ये जतन

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
640
| जनवरी 10 , 2018 , 15:46 IST

साउथ अफ्रीका दौरे पर गई टीम इंडिया मेजबान दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बुरी तरह मुंह की खाने के बाद कोच रवि शास्त्री की कड़ी निगरानी में विराट कोहली एंड कंपनी ने मंगलवार को नेट पर जमकर पसीना बहाया।

अब जबकि पहले टेस्ट का रिजल्ट चार दिन (वास्तव में तीन) के भीतर ही आ गया, तो टीम इंडिया ने पांचवें दिन का बखूबी इस्तेमाल किया और इस आखिरी दिन का इस्तेमाल नेट अभ्यास के लिए किया।

टीम इंडिया की कोशिशें सेंचुरियन में मैच जीतकर सीरीज में पहले बराबरी पर आने की हैं। लेकिन इसके लिए भारत को कई पहलुओं पर काम करना होगा।

मैच से पहले से ही क्रिकेट पंडित यह सवाल उठा रहे हैं कि आखिर अजिंक्य रहाणे को केपटाउन में क्यों नहीं खिलाया गया। रहाणे तकनीकी रूप से चेतेश्वर पुजारा के बाद सर्वश्रेष्ठ भारतीय बल्लेबाज कहे जाते हैं। वहीं, विदेशी जमीं पर उनका शानदार औसत भी उनके केस को और मजबूत बना रहा है।

शिखर धवन और मुरली विजय केपटाउन में पहली पारी में 16 और दूसरी पारी में सबसे ज्यादा जरुरत के समय सिर्फ तीस रन की ही साझेदारी कर सके।

Rahane-test_2018013513

सबसे बड़ी बात ये दोनों कभी भी विश्वसनीय दिखाई नहीं पड़े। मुरली विजय के चेहरे की हवाइयां उड़ी रहीं, तो लगा शिखर धवन वनडे की मनोदशा से ग्रस्त हैं। हालात ऐसे भी बन रहे हैं कि इन दोनों में से किसी एक को बाहर बैठाकर लोकेश राहुल को खिलाया जाए ।

भारतीय सीमरों ने बहुत लंबे समय बाद अपने प्रदर्शन से करोड़ों हिंदुस्तानी क्रिकेटप्रेमियों को बाग-बाग कर दिया। पहली पारी तक इस तरह की चर्चाएं हो रही थीं कि जसप्रीत बुमराह की जगह उमेश यादव को खिलाया जाना चाहिए था।

इसे भी पढ़ें :- इस कारण से दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन पूरी सीरीज से हुए बाहर

लेकिन बुमराह ने दूसरी पारी में तीन विकेट चटकाकर तमाम चर्चाओं पर विराम लगा दिया। कुल मिलाकर बात यह है कि टेस्ट मैच जीतने के लिए बीस विकेटों की जरुरत होती है। और सीमरों को केपटाउन के कमाल को सेंचुरियन में भी दोहराना होगा।


कमेंट करें