नेशनल

जम्मू-कश्मीर आरक्षण एक्ट-2004 में संशोधन, अब मिलेगा आर्थिक आरक्षण का लाभ

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1658
| मार्च 1 , 2019 , 11:14 IST

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बृहस्पतिवार को जम्मू कश्मीर आरक्षण संशोधन अध्यादेश 2019 को मंजूरी प्रदान कर दी। वित्त मंत्री अरूण जेटली ने यह जानकारी दी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय का निर्णय किया गया। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बैठक में जम्मू कश्मीर सरकार के जम्मू कश्मीर संशोधन अध्यादेश को राष्ट्रपति द्वारा जारी करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी।

इसके तहत जम्मू कश्मीर आरक्षण अधिनियम 2004 में संशोधन करने की बात कही गई है । इसके जरिये अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास रहने वाले लोगों को भी आरक्षण का लाभ वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास रहने वाले लोगों की तरह की प्राप्त हो सकेगा ।

  बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण फैसले

  • मंत्रिमंडल ने संविधान (जम्मू और कश्मीर के लिए आवेदन) संशोधन आदेश, 2019 को मंजूरी दी
  • गुजरात के हीरासर (राजकोट) में नए ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे के विकास को मंजूरी दी
  • हरियाणा के मनेठी में नए AIIMS की स्थापना को मंजूरी
  • AIIMS, नई दिल्ली के मास्टर प्लान के कार्यान्वयन को मंजूरी
  • फेम इंडिया फेज II के लिए योजना को मंजूरी
  • एयर इंडिया और उसकी सब्सिडियरी / जेवी के विनिवेश के लिए एसपीवी की स्थापना को मंजूरी
  • आगरा मेट्रो रेल परियोजना को मंजूरी
  • सॉफ्टवेयर उत्पादों पर राष्ट्रीय नीति को मंजूरी

इसके साथ ही सरकार ने बृहस्पतिवार को संविधान के विवादित अनुच्छेद 370 के एक उपबंध में संशोधन करके जम्मू कश्मीर में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति को आरक्षण के लाभ देने के लिए अध्यादेश लागू करने को अपनी मंजूरी दे दी। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि निर्णय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में किया गया।

उन्होंने कहा कि यह संविधान (77वां संशोधन) अधिनियम, 1995 और संविधान (103वां संशोधन), अधिनियम 2019 के जरिये संशोधित भारत के संविधान के संबंधित प्रावधानों को जम्मू कश्मीर में लागू करने में मदद करेगा। यह राष्ट्रपति द्वारा अनुच्छेद 370 के उपबंध (1) के तहत संविधान (जम्मू कश्मीर पर लागू) संशोधन आदेश 2019 जारी करने के जरिये होगा। अध्यादेश को राष्ट्रपति द्वारा जारी किया जाएगा।


कमेंट करें